गोष्ठी में शंकाओं का समाधान, प्रदर्शनी देख गदगद हुए किसान

गोष्ठी में शंकाओं का समाधान, प्रदर्शनी देख गदगद हुए किसान

विभिन्न विभागों ने लगाए स्टाल उत्कृष्ट किसान हुए सम्मानित

Publish Date:Sun, 24 Jan 2021 10:12 PM (IST) Author: Jagran

बलरामपुर : उत्तर प्रदेश दिवस पर रविवार को विकास भवन परिसर में तीन दिवसीय गोष्ठी, मेला व प्रदर्शनी की शुरुआत की गई। इस दौरान जानकारी देने के साथ प्रगतिशील किसानों को सम्मानित भी किया गया।

कृषि गोष्ठी में कृषि उपनिदेशक डॉ. प्रभाकर सिंह, जिला कृषि अधिकारी मनजीत कुमार, जिला कृषि रक्षा अधिकारी सलीमुद्दीन, कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक डॉ. जगवीर सिंह, जिला उद्यान अधिकारी लाल बहादुर मौर्य से किसानों ने अपनी शंकाओं को लेकर प्रश्न पूछे। अधिकारियों ने उनकी समस्याओं का समाधान किया।

सदर विधायक पल्टूराम ने जिलाधिकारी श्रुति, एसपी हेमंत कुटियाल, एडीएम अरुण कुमार शुक्ल, सीडीओ अमनदीप डुली, डीडीओ गिरीश चंद्र पाठक की मौजूदगी में मछली उत्पादन के लिए पचपेड़वा के छपिया निवासी वसीम अहमद व तुलसीपुर के देवीपाटन निवासी घिराऊ को पुरस्कृत किया। सब्जी व जैविक खेती के लिए उतरौला के कटरा निवासी रामशब्द वर्मा, पशुपालन व कृषि क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन के लिए सिरसिया निवासी उमेश सिंह को सम्मानित किया गया।

स्टालों पर दी गई योजनाओं की जानकारी :

- किसान मेला व प्रदर्शनी में विभिन्न विभागों ने अपनी योजनाओं की जानकारी देने के लिए स्टाल लगाए थे। कौशल विकास मिशन के स्टाल पर प्रदीप पांडेय, प्रशिक्षक अंजनी मिश्र, नीतीश तिवारी ने बेरोजगार को हुनरमंद बनाने के लिए चल रही योजनाओं की जानकारी दी। ग्राम्य विकास विभाग में मनरेगा जिला समन्वयक महेंद्र देव, एपीओ आलोक सिंह, अवधेश श्रीवास्तव, अतुल मिश्र, आनंद मिश्र, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के जिला समन्वयक अखिलेश मौर्य के साथ समूह सखी अंजू, परवीन बानो ने योजनाओं की जानकारी दी।

स्वास्थ्य विभाग के स्टाल पर बीसीपीएम जेपी पांडेय, सीएचओ वंदना, फार्मासिस्ट सुनील गुप्त, आशा, रोली सिंह, रामा देवी, सोनम, मिथिलेश पाठक, सरिता मिश्रा व ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक सुनील कुमार सिंह, केपी मिश्र, मोहित पांडेय ने अपने यहां संचालित योजनाएं बताई।

उद्यान विभाग, बाल विकास पुष्टाहार विभाग, समाज कल्याण विभाग नाबार्ड, महिला कल्याण विभाग, मत्स्य विभाग, रेशम विभाग, राजस्व विभाग, बैंक, युवा कल्याण विभाग ने भी स्टाल लगाकर जानकारी दी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.