बुनियाद प्रतिभा खोज परीक्षा के मेधावी सम्मानित

बुनियाद प्रतिभा खोज परीक्षा के मेधावी सम्मानित

एसडीएम व सीओ ने प्रतियोगिता के लिए संस्था को सराहा तीन साल से लगातार टॉपर बनी शिफत को मिला कंप्यूटर

Publish Date:Sun, 24 Jan 2021 10:17 PM (IST) Author: Jagran

बलरामपुर : मेधावी छात्रों की प्रतिभा को निखारने व अन्य छात्रों में प्रतिस्पर्धा की भावना विकसित करने में बुनियाद प्रतिभा खोज परीक्षा अच्छी पहल है। इससे छात्रों में आगे चलकर परीक्षा के लिए असमंजस या भय की भावना नहीं रहती।

यह बातें एसडीएम एके गौड़ ने एमवाई उस्मानी इंटर कॉलेज में आयोजित प्रतिभा सम्मान समारोह में कही। क्षेत्राधिकारी राधारमण सिंह ने कहाकि जूनियर कक्षाओं से छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयार करना अच्छा कदम है।

एमएलके महाविद्यालय के पूर्व प्रवक्ता डॉ. केके अंसारी ने कहाकि स्थानीय स्तर पर अनेक स्कूलों के छात्रों की एक साथ परीक्षा कराना व पारदर्शी परिणाम घोषित करना एक चुनौती भरा कदम है। डॉ. अब्दुल कय्यूम ने इस पहल के लिए अभिव्यक्ति संस्था की सराहना की। तीन वर्षो से लगातार परीक्षा में टॉप रहने वाली छात्रा शिफत फात्मा को कंप्यूटर, मेडल व प्रमाणपत्र दिया गया। संस्था अध्यक्ष डॉ. शेहाब जफर ने बताया कि पिछले वर्ष फरवरी में हुई परीक्षा में 62 स्कूलों के 613 छात्र शामिल हुए थे। इनमें 14 परिषदीय स्कूलों समेत कुल 38 स्कूलों के 118 छात्रों को वरीयता सूची में जगह मिलने पर सम्मानित किया गया।

ओवरऑल अच्छी रैंक पाने वाले स्कालर्स एकेडमी के डायरेक्टर असलम शेर खां को संस्था ने स्मृति चिह्न दिया। लाइफटाइम एचीवमेंट प्रमाणपत्र डॉ. केके अंसारी को मिला। बेस्ट टीचर का अवार्ड स्कालर्स एकेडमी के विशाल गुप्त, देवेंद्र कुमार व वर्षा गुप्ता को दिया गया।

पूर्व विधायक अनवर महमूद खां, एजाज मलिक, डॉ. एहसान खां, पूर्व ब्लॉक प्रमुख लकी खां, अबुल हासिम खां, असलम राइनी, आमिर सिद्दीकी की, डॉ. सगीर असमद, डॉ. नजर मुहम्मद, अंसार खां, अब्दुर्रहमान सिद्दीकी मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.