अपराधी कर रहे वारदात, नगर की पुलिस खाली हाथ

-फालोअप चित्र परिचय 01 बीएलएम 012 सब हेड

JagranWed, 01 Dec 2021 10:16 PM (IST)
अपराधी कर रहे वारदात, नगर की पुलिस खाली हाथ

श्लोक मिश्र, बलरामपुर:

एक तरफ पुलिस अधीक्षक ला एंड आर्डर दुरुस्त करने के लिए मातहतों को लगातार हिदायत दे रहे हैं। वहीं नगर कोतवाली की पुलिस हत्या जैसे संगीन अपराधों में भी गंभीर नहीं है। क्षेत्र के बघनी गांव में 13 नवंबर को रवि सिंह को मारपीट कर नहर में फेंक दिया गया। 28 नवंबर को दिल्ली में इलाज के दौरान मौत हो गई। इस पर स्वजन ने पुलिस पर त्वरित कार्रवाई न करने का आरोप लगाया है। उधर सिरिया गांव निवासिनी महिला प्रधान फूलकुंवरि पर एक अक्टूबर को जानलेवा हमला किया गया था। सिर के आरपार सुराख हो गया। दो माह बाद उसने दम तोड़ दिया। इसमें भी पुलिस अब तक खाली हाथ है। पुलिस की लचर कार्यशौली से न सिर्फ उसके इकबाल पर सवाल उठ रहे हैं, बल्कि आमजन की नजर में मित्र की क्षवि धूमिल हो रही है।

15 दिन बाद लिखा मुकदमा:

बघनी गांव निवासी उदल सिंह का कहना है कि उसका भतीजा रवि सिंह 13 नवंबर की रात बरवलिया गांव निवासी डा. गोसाई के घर दावत खाने गया था। डा. गोसाई प्रधान का पति है। उस रात उसके घर अमरेश, रामदेव, राजित व रन्ने भी मौजूद थे। पांचों ने मिलकर उसे मारा-पीटा। मरा हुआ समझकर उसे सरयू नहर के पास गड्ढे में फेंककर चले गए। खोजबीन के दौरान रवि गड्ढे में मिला, तो उसकी सांसें चल रहीं थीं। 14 नवंबर को ही नगर कोतवाली पुलिस को सूचना दी गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। 28 नवंबर को एसपी को रजिस्टर्ड डाक से पत्र भेजा। एसपी के हस्तक्षेप पर आरोपितों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मुकदमा लिखा गया। उसी रात रवि ने दम तोड़ दिया।

महिला प्रधान का हमलावर गुमनाम:

सदर ब्लाक के सिरिया गांव निवासिनी फूल कुंवरि एक गरीब परिवार की अनुसूचित जाति की महिला थी। फूस के मड़हे में रहते हुए जब उसने प्रधानी का चुनाव जीता था। एक अक्टूबर को आधी रात स्वजन की मौजूदगी में उस पर जानलेवा हमला कर दिया गया। बगल में सो रहे पति व बेटी को भनक न लगी। हालत नाजुक होने पर उसे लखनऊ में भर्ती किया गया। कुछ सुधार होने के बाद बहराइच में इलाज कराया गया। 29 नवंबर को उसकी मौत हो गई। फूलकुंवरि के पति रामसागर का कहना है कि उसकी गांव में किसी से कोई रंजिश नहीं है। दो माह बाद भी हमलावरों तक पुलिस नहीं पहुंच सकी।

चल रही विवेचना:

नगर कोतवाली संजय कुमार दुबे का कहना है कि बघनी गांव के पीड़ित परिवार ने पहले पुलिस को घटना की सूचना नहीं दी थी। सिरिया गांव की महिला प्रधान की मौत मामले की विवेचना चल रही है। दोनों घटनाओं में हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज हुआ था। धाराएं तरमीम कर हत्या का मुकदमा दर्ज है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.