top menutop menutop menu

पूरे दिन बादलों की ओट से झांकते रहे सूर्य देव, बढ़ी गलन

जागरण संवाददाता, बलिया: मंगलवार को मौसम का मिजाज कुछ बदला-बदला नजर आया। सोमवार को जहां गलन क प्रकोप रहा वहीं मंगलवार को पछुआ हवा न चलने से लोगों ने राहत की सांस ली। हालांकि दिनभर आसमान में बादलों का जमावड़ा लगा रहा। इससे सूर्य की तपिश भी कम महसूस हुई। ठंड के कारण गुनगुनी धूप सबको लुभा रही थी। वैसे बादलों को देखकर मौसम का रुख परिवर्तित होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

पिछले एक सप्ताह से मौसम लगातार परिवर्तित हो रहा है। कभी गलन का प्रकोप बढ़ जाता है तो कभी तेज धूप मौसम में गर्मी का अहसास भी कराता रहा। यह सिलसिला बदस्तूर जारी है। इससे अधिकतम तापमान 16.5 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विज्ञानियों के अनुसार एक बार फिर हवा का रुख उत्तर-पश्चिम का हो गया है। इससे सर्दी लौटने की संभावना बढ़ गई है।

बादलों की मौजूदगी में चल रही पछुआ हवा को लोगबाग ठंड लौटने का संकेत मान रहे हैं। इसे लेकर आमजन खासा परेशान नजर आ रहे। मौसम परिवर्तन को देखते हुए जहां आम आदमी ठंड बढ़ने से सशंकित है वहीं किसान भी मौसम का रुख देख कर सहमा नजर आ रहा है। किसानों के अनुसार ठंड के साथ कुछ दिन कोहरा पड़ना गेहूं की फसल के लिए लाभदायक रहेगा। मौसम परिवर्तन का प्रभाव उत्पादन पड़ेगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.