यूपी-हरियाणा सीमा विवाद : बागपत में हरियाणा के 25 किसानों पर मुकदमा दर्ज Baghpat News

बागपत में सीमा विवाद के चलते हुई मारपीट में 25 किसानों पर केस दर्ज किया गया है।

बागपत जिले के छपरौली थाना क्षेत्र के टांडा गांव के युनूस ने छपरौली थाने में पानीपत जनपद के बापौली थाना क्षेत्र के खोजकीपुर गांव के 25 किसानों के खिलाफ मारपीट और हमला करने का केस कराया है। पुलिस ने बहराल इस मामले में जांच शुरू कर दी है।

Publish Date:Tue, 01 Dec 2020 01:30 PM (IST) Author: Prem Bhatt

बागपत, जेएनएन। UP Haryana border dispute बागपत जिले के छपरौली थाना क्षेत्र के टांडा गांव के युनूस ने छपरौली थाने में मुकदमा दर्ज कराया है कि सोमवार को उसका भाई याकूब व उसके पड़ोसी शाहीन, रिजवान, रियाज आदि किसान अपने खेतों में गेहूं की बुआई व जुताई कर रहे थे। इसी दौरान दोपहर एक बजे पानीपत जनपद के बापौली थाना क्षेत्र के खोजकीपुर गांव के लगभग 45 किसान और दूसरे लोग खरपाली, गंडासा, तबल, भाले और लाठी-डंडे लेकर उनके खेतों पर पहुंचे और कब्जा करने का प्रयास किया। उन्होंने विरोध किया तो आरोपितों ने उन पर हमला बोल दिया। इस मामले में पुलिस ने 25 आरोपितों के खिलाफ नामजद व इतने ही आरोपितों के खिलाफ अज्ञात में मुकदमा दर्ज कर घटना जांच शुरू कर दी है।

याकूब को अन्य किसानों ने बचाने का प्रयास किया तो आरोपितों ने उन्हें भी मारपीट कर घायल कर दिया, जिसमें याकूब के अलावा चार और किसान घायल हो गए। याकूब को चिंताजनक हालत में अस्पताल में भर्ती कराया था, जबकि अन्य का सीएचसी पर उपचार हुआ था। पीड़ित किसानों ने घटना की जानकारी गांव के अलावा पुलिस को दी। गांव के लोगों और पुलिस को आता देखकर आरोपित जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए। छपरौली एसओ हेमेंद्र बालियान ने बताया कि पीड़ित की तहरीर पर खोजकीपुर गांव निवासी धूमन, मोनू, इलमा, टीटू, रिंकू, प्रकाश आदि 25 आरोपितों के खिलाफ नामजद व इतने ही आरोपितों के खिलाफ अज्ञात में मुकदमा दर्ज कर घटना जांच शुरू कर दी है। उधर, यमुना खादर में दोनों गांव के किसानों के बीच अभी भी तनाव की स्थिति बनी हुई है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.