सेवानिवृत्त शिक्षकों को पेंशन और जीपीएफ का भुगतान नहीं, रोष

पिछले साल सेवानिवृत्त होने वाले शिक्षकों को अभी तक पेंशन और जीपीएफ का भुगतान न मिलने सहित कई समस्याओं का निस्तारण न होने से शिक्षकों में रोष है। माध्यमिक शिक्षक संघ उक्त मामलों को लेकर 17 जून को डीआइओएस के साथ समीक्षा बैठक करेगा। इसमें हल नहीं निकलने पर संघ ने धरने की चेतावनी दी है।

JagranTue, 15 Jun 2021 11:26 PM (IST)
सेवानिवृत्त शिक्षकों को पेंशन और जीपीएफ का भुगतान नहीं, रोष

बागपत, जेएनएन। पिछले साल सेवानिवृत्त होने वाले शिक्षकों को अभी तक पेंशन और जीपीएफ का भुगतान न मिलने सहित कई समस्याओं का निस्तारण न होने से शिक्षकों में रोष है। माध्यमिक शिक्षक संघ उक्त मामलों को लेकर 17 जून को डीआइओएस के साथ समीक्षा बैठक करेगा। इसमें हल नहीं निकलने पर संघ ने धरने की चेतावनी दी है।

माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय कार्यकारिणी सदस्य वीरेंद्र सिंह ने मंगलवार को बड़ौत शहर स्थित अपने आवास पर प्रेस वार्ता में बताया कि शिक्षक महासंघ का एक प्रतिनिधिमंडल 12 जून को दिल्ली में जाकर सांसद डा. सत्यपाल सिंह से मिला था। उन्हें शिक्षकों के उत्पीड़न के संबंध में जानकारी दी थी। पिछले साल यमुना इंटर कालेज बागपत में इंटर की कापियां जांचने वाले अधिकांश शिक्षकों का भुगतान नहीं कराए जाने के संबंध में सांसद को अवगत कराया गया। इसके अलावा पिछले साल सेवानिवृत्त होने वाले शिक्षकों को साल भर बाद भी पेंशन और जीपीएफ का भुगतान नहीं किया जा रहा है। इसके अलावा दिगंबर जैन बड़ौत, हरचंदमल जैन टीकरी सहित 15 विद्यालयों के शिक्षकों को मई का वेतन नहीं दिया गया है। देवनागरी, खट्टा प्रहलादपुर, जैन खेकड़ा, जनता वैदिक बड़ौत, खामपुर लुहारी, शीलचंद अमीनगर सराय के शिक्षकों का चयन वेतनमान तथा पदोन्नति मान्य नहीं की जा रही है। बताया कि संघ उक्त मामलों को लेकर 17 जून को डीआईओएस के साथ समीक्षा बैठक करेगा। चेतावनी दी कि समीक्षा बैठक में सकारात्मक हल नहीं निकाला गया तो शिक्षक वहीं धरने पर बैठ जाएंगे। इस मौके पर जिला मंत्री सत्यवीर सिंह तथा मीडिया प्रभारी अजय राज शर्मा भी मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.