पुरानी पेंशन बहाली न होने पर सरकार को झेलनी पड़ेगी नाराजगी : सुरेश कुमार

विधान परिषद में शिक्षक दल के नेता सुरेश कुमार त्रिपाठी ने कहा कि पेंशन भीख नहीं अधिकार है। यदि पुरानी पेंशन की बहाली विधान चुनाव से पूर्व नहीं की गई तो सरकार को शिक्षकों की नाराजगी झेलनी पड़ेगी।

JagranThu, 09 Dec 2021 06:08 PM (IST)
पुरानी पेंशन बहाली न होने पर सरकार को झेलनी पड़ेगी नाराजगी : सुरेश कुमार

बागपत, टीम जागरण। विधान परिषद में शिक्षक दल के नेता सुरेश कुमार त्रिपाठी ने कहा कि पेंशन भीख नहीं अधिकार है। यदि पुरानी पेंशन की बहाली विधान चुनाव से पूर्व नहीं की गई तो सरकार को शिक्षकों की नाराजगी झेलनी पड़ेगी।

जनता वैदिक इंटर कालेज में गुरुवार को हुए जनपदीय शिक्षक सम्मेलन में मुख्य अतिथि शिक्षक नेता सुरेश कुमार त्रिपाठी ने कहा कि नई पेंशन योजना में सम्मिलित शिक्षकों का भविष्य चौपट हो गया है। पेंशन के नाम पर प्रतिमाह महज तीन हजार रुपये ही स्वीकृत किए जा रहे हैं। कहा कि पूरे प्रदेश में माध्यमिक व प्राथमिक शिक्षकों को निशुल्क चिकित्सा का लाभ न देकर सरकार तानाशाही पर तुली है। यदि शिक्षकों ने सड़क पर उतरकर आवाज नहीं उठाई तो भारी पछतावा होगा। विधान परिषद सदस्य ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने कहा कि वरिष्ठ शिक्षक नेता स्व. ओम प्रकाश शर्मा की नीति और शिक्षकों की संघर्ष के बूते शिक्षकों को वेतन शून्य से सम्मानजनक स्तर पर पहुंचा है, जिसे आगे बढ़ाना होगा। कहा कि पूर्व की भांति शिक्षकों ने आंदोलन को कमर कस ली है, जिसकी अनदेखी यह सरकार नहीं कर पाएगी। उन्होंने कहा कि उनकी मांग पर ध्यान नहीं दिया गया तो आंदोलन होगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता रमेश चंद शर्मा तथा संचालन वल्लभ सिंह शर्मा ने किया। इस मौके पर महामंत्री इंद्रासन सिंह, जिलाध्यक्ष उमेश कुमार, जिला मंत्री सत्यवीर सिंह, डीआईओएस रविद्र सिंह, प्राचार्य डा. जय कुमार सरोहा, प्रधानाचार्य यशपाल शास्त्री, मीडिया प्रभारी अजय राज शर्मा, इंद्रपाल सिंह, प्रहलाद सिंह, डा. प्रशांत जैन, लोकेश कुमार, विपिन चौहान, मनोज कुमार, इंद्रपाल सिंह, विनय जैन, योगेंद्र शर्मा, आदेश गुप्ता आदि शिक्षक मौजूद रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.