किसान आंदोलन के पक्ष में रालोदियों ने किया हाईवे जाम

किसान आंदोलन के पक्ष में रालोदियों ने किया हाईवे जाम

दिल्ली के किसान आंदोलन के पक्ष में रालोद कार्यकर्ताओं ने हुंकार भरी।

Publish Date:Wed, 02 Dec 2020 06:50 PM (IST) Author: Jagran

बागपत, जेएनएन। दिल्ली के किसान आंदोलन के पक्ष में रालोद कार्यकर्ताओं ने हुंकार भरी। रालोद कार्यकर्ताओं ने कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर यूपी-हरियाणा बार्डर के निवाड़ा पुल पर जाम लगाने को जाने लगे, तो पुलिस ने उन्हें जाने से रोक दिया। अधिकारियों से उलझने के बाद रालोद कार्यकर्ताओं ने कलक्ट्रेट के सामने दिल्ली-यमुनोत्री हाईवे जाम लगाया और अधिकारियों को ज्ञापन सौंपा।

रालोद जिलाध्यक्ष सुखबीर सिंह गठीना के नेतृत्व में दर्जनों कार्यकर्ताओं ने बुधवार दोपहर 12 बजे कलक्ट्रेट पहुंचकर प्रदर्शन किया। इसके बाद कार्यकर्ताओं ने यूपी-हरियाणा बार्डर के निवाड़ा पुल पर मेरठ-रोहतक हाईवे-334बी पर जाम लगाने का ऐलान किया, तो पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों के हाथ पैर फूल गए। अधिकारियों ने रालोदियों की गाड़ियों के आगे अपनी गाड़ियों को अड़ाकर निवाड़ा पुल जाने से रोक दिया।

अधिकारियों से तीखी नोकझोंक के बाद रालोदियों ने कलक्ट्रेट के सामने पुलिस के बैरियर उठाकर दिल्ली-यमुनोत्री हाईवे पर जाम लगा दिया। कईयों ने हाईवे पर लेटकर विरोध जताया। 20 मिनट बाद एसडीएम अनुभव सिंह को राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन देने के बाद जाम खोल दिया। राष्ट्रपति से नए कृषि कानून खत्म करने, गन्ना भुगतान कराने तथा गन्ना दाम प्रति कुंतल 450 रुपये घोषित करने, बिजली मूल्य कम करने समेत किसानों की सभी मांगें पूरी करने की मांग की।

पूर्व विधायक वीरपाल राठी, विश्वास चौधरी, संजीव मान, सतेन्द्र मलिक, ब्लाक प्रमुख सुभाष गुर्जर, धीरज उज्जवल, विकास प्रधान बाछौड़, ओमबीर ढाका, एडवोकेट जयवीर सिंह तोमर, प्रमेन्द्र तोमर, देवेंद्र आर्य, सागर तोमर, विकास मलिक, नीरज पंडित, राजू तोमर सिरसली, श्याम सिंह, नौशाद अली, एडवोकेट धर्मेन्द्र, पुष्पेंद्र प्रधान, उपेंद्र, भूरू कुरैशी, ब्रज कुमार, मोहित मुखिया, संजय फौजी, रीता चौहान, कलीम अल्वी, रवि गोठरा, रविद्र सिंह मुखिया, जसबीर सिंह आदि मौजूद रहे। रालोद नेता ओमबीर ढाका समेत कई रालोदी दिल्ली के सिघु बार्डर पहुंचे। आपस में उलझे रालोदी

यूपी-हरियाणा बार्डर पर जाम लगाने के मुद्दे को लेकर कई रालोदी आपस में उलझ गए। कई वहां जाकर जाम लगाने पर अड़े थे, तो कई बीच का रास्ता निकालने में जुटे थे। पुलिस अधिकारी के बिगड़े बोल

-कलक्ट्रेट पर एक पुलिस अधिकारी की प्रदर्शन पर टिप्पणी करने को लेकर रालोदियों में आक्रोश व्याप्त हो गया। पुलिस अधिकारी से नोकझोंक हुई। जमीयत उलेमा भी मैदान में

जागरण संवाददाता, बागपत: जमीयत उलेमा बागपत के अध्यक्ष मुफ्ती अब्बास के नेतृत्व में किसान आंदोलन के समर्थन में कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर एसडीएम अनुभव सिंह को ज्ञापन देकर सरकार ने नए कृषि कानून खत्म करने तथा किसानों की सभी मांग पूरी करने की मांग की है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.