पर्यावरण को बढ़ावा: शादी समारोह में भेंट किया पौधा

पर्यावरण को बढ़ावा: शादी समारोह में भेंट किया पौधा

सामाजिक संस्था आंखे मीडिया सोशल नेटवर्क द्वारा चलाए जा रहे पौधा रोपण अभियान के तहत पौधे बांटे

Publish Date:Wed, 02 Dec 2020 12:28 AM (IST) Author: Jagran

बागपत, जेएनएन। सामाजिक संस्था आंखे मीडिया सोशल नेटवर्क द्वारा चलाए जा रहे पौधा रोपण अभियान के चरण विवाह संस्कार में पौधा रोपण संस्कार अभियान के तहत गांव शबगा में वैदिक परंपरा से संपन्न हुए शादी समारोह में नव दंपति आरती निवासी शबगा व गौरव निवासी बनत शामली को समाज सेवी आरआरडी उपाध्याय एवं जितेंद्र कुमार आर्य ने विवाह संस्कार से पूर्व पौधा भेंट किया। इस अवसर पर प्रधानाचार्य सुनील कुमार आर्य, संजीव आर्य, जसवीर, सचिन, संजीव कुमार, सुमित, बिट्टू, काला, संतोष देवी, रीना, आस्था, काजल, प्रीती, साक्षी, ऐशना आदि मौजूद रहे। छपरौली में किसानों की बैठक हुई

कस्बे की चौधराण वाली चौपाल में मंगलवार को किसानों की बैठक हुई। वक्ताओं ने कहा कि सरकार एमएसपी कानून बनाना चाहिए, जिससे किसानों की फसल एक निश्चित दर से नीचे न खरीदी जा सके, तो किसानों को कोई परेशानी नहीं है। लेकिन यदि सरकार ने प्रदर्शन कर रहे किसानों पर लाठीचार्ज या कोई अन्य दमन पूर्ण कार्य किया तो किसान क्रांति पर उतारू होगा। प्रदर्शन कर रहे किसानों के समर्थन में तीन दिसंबर को पंचायत करने का भी फैसला लिया गया। सभा की अध्यक्षता डायरेक्टर ईश्वर सिंह व संचालन भाकियू चौबीसी खाप अध्यक्ष रणवीर सिंह ने किया। इस मौके पर कंवरपाल, सहदेव, करण सिंह, महेंद्र वह हरबीर आदि मौजूद रहे। यज्ञ का आयोजन किया

नेताजी सुभाष चंद बोष मैमोरियल इंटर कालेज तमेलागढ़ी में यज्ञ का आयोजन किया, जिसमें प्रधानाचार्य रूकमपाल यादव ने कहा कि यज्ञ मानव जीवन के स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है। वातावरण को शुद्ध करने का सबसे उत्तम मार्ग यज्ञ ही है। यज्ञ में डाली गई आहुतियां वातावरण को प्रदूषण से मु़क्त कर शुद्ध करती है। प्रत्येक व्यक्ति को अपने घरों में कम से कम माह में एक बार अवश्य ही यज्ञ करना चाहिए। इस मौके पर हरपाल आर्य, सतीश, नरेश, सुशील, राहुल, आनंद छिल्लर, देवेंद्र आदि मौजूद रहे। प्रतियोगिता संपन्न हुई

हसनपुर जिवानी गांव में आयोजित दो दिवसीय क्रिकेट प्रतियोगिता का समापन मंगलवार को हुआ। इस दौरान अरुण फौजी ने कहा कि आज खेल के क्षेत्र में भी कैरियर की असीम संभावनाएं हैं। खेल के क्षेत्र में ग्रामीण क्षेत्रों में प्रतिभाओं की कमी नहीं है, बस जरूरत है तो इन खेलों के प्रोत्साहन की, ताकि बच्चे इस तरफ आकर्षित हो। मंगलवार को फाइनल मुकाबला बावली व शाहपुर के बीच हुआ। दोनों टीमों के बीच मैच काफी संघर्षपूर्ण रहा। सुपर ओवर में शाहपुर की टीम विजयी घोषित हुई।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.