तंबुओं का शहर तैयार, श्रद्धालुओं का इंतजार

बदायूं : रुहेलखंड का मिनी कुंभ मेला ककोड़ा में तंबुओं का शहर पूरी तरह से बस चुका है। अब वहां श्रद्धालुओं का इंतजार हो रहा है। बुधवार की शाम से श्रद्धालु भी मेले की ओर अपने वाहनों से रवाना हो जाएंगे। मेले के उद्घाटन की तैयारियों को लेकर प्रशासनिक अधिकारी अपनी अहम भूमिका में जुटे हुए हैं।

मेले में मुख्य पूजन से पूर्व मेले के मुख्य द्वार बनेंगे। मेले में गंगा तट के किनारे पूर्व में मुख्य मार्ग पर वीआईपी टैंट लगाए गए हैं। मेले में विद्युत व्यवस्था के मद्देनजर लाइट का सारा सामान गंगा के किनारे टैंटो में रखा गया है। मेले में चकाचौंध और रोशनी की जगमगाहट के लिए मेले में गंगा तट को जाने वाले मार्ग के बीचोंबीच विद्युत व्यवस्था के लिए पोल लगाए जा रहे हैं। इनपर बुधवार को मेले में विद्युत सप्लाई के लिए तारों को खींचकर आकर्षक बल्बों से सजाया जाएगा। विद्युत चलित झालरें आकर्षण का केंद्र रहेंगी। इससे पहले लगे मिनी कुंभ मेला ककोड़ा में झंडी पूजन और यज्ञ के बाद मेले में तंबुओं का शहर बस पाता था। मजदूरों द्वारा भी मेले की तैयारी के लिए दिन रात एक किया जा रहा है। मेले की भव्यता को बढ़ाने के लिए मेला ककोड़ा में 16 नवंबर को होने वाले पूजन से पूर्व ही मेला ककोड़ा का मुख्य द्वार और गंगा तट के समीप मुख्य द्वार को बनाने की तैयारी में मजदूर जुटे हैं।

मेले में झूला-चर्खी और दुकानें पहुंचीं

मेले में चाट पकौड़ी और परचून की दुकानें पहुंच चुकी है। मेले में मीना बाजार, खेल खिलौने, सोफ्टी आदि की दुकानें पूजन के साथ ही लगेंगी। मेले में बच्चों के मनोरंजन कराने वाले बड़े झूले, ड्राईगन, ब्रेक डांस आदि के झूले भी पहुंच चुके हैं। सीओ भूषण वर्मा और मेला प्रभारी सत्यप्रकाश ¨सह ने सुरक्षा व्यवस्था को लेकर मेले का निरीक्षण किया। पुलिस बल के जवानों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। पुलिस बल भी तैनात किया गया है। अपर मुख्य अधिकारी इं. सीपी ¨सह राघव, जिला पंचायत अभियंता इं. केपी वर्मा, जेई छोटे लाल यादव, अवर अभियंता लालता प्रसाद कश्यप और रंजीत कुमार ने जाम से बचने के लिए नया मार्ग तैयार किया है। जो मेले के खैराती चौक से सीधे मार्ग वाले रोड में जोड़ा गया है। मेला अस्पताल के लिए डॉक्टर स्टॉफ की लगी ड्यूटी

बदायूं : मेला ककोड़ा में अस्पताल खोलने की तैयारियां स्वास्थ्य महकमे ने शुरू कर दी हैं। प्रभारी सीएमओ डॉ. मंजीत ¨सह ने मंगलवार को एसीएमओ डॉ. कौशल गुप्ता को चिकित्सकों की ड्यूटी लगाने समेत जरूरी दवाइयों का पूरा ब्योरा बनाने का निर्देश दिया है। प्रभारी सीएमओ ने बताया कि 16 नवंबर को सभी जरूरी संसाधन जुटाने के साथ ही डॉक्टर, स्टाफ नर्स और वार्ड ब्वायों की ड्यूटी वहां लगा दी जाएगी। ताकि वहां आने वाले श्रद्धालुओं को स्वास्थ्य संबंधी परेशानी न झेलना पड़े।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.