संवेदनशील स्थलों पर चौकसी बरते अफसर : धीरज

बदायूं : जिले के नोडल अधिकारी, आबकारी आयुक्त धीरज साहू ने विकास कार्यों एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा की। कहा कि कानून एवं शांति व्यवस्था पर विशेष ध्यान रखा जाए। मोहर्रम एवं गणेश चतुर्थी होने वाले त्योहारों पर पुलिस प्रशासन संवेदनशील स्थानों को चिह्नित कर चौकसी बरतें। निर्माण कार्य युद्ध स्तर पर चलाकर जल्द से जल्द पूर्ण कर लिए जाएं। सड़कों के निर्माण पर ध्यान दिया जाए कि जलभराव तथा रोड ऊंची-नीची नहीं होनी चाहिए। जिले में कराए गए पौधरोपण का स्थलीय सत्यापन कराने के निर्देश दिए। कहा कि समग्र विकास योजना अंतर्गत चिह्नित गांवों में रोड, विद्युत, पेयजल समेत सभी व्यवस्थाएं पूर्ण होनी चाहिए।

कलेक्ट्रेट सभागार में हुई समीक्षा बैठक में नोडल अधिकारी ने एसडीएम एवं सीओ को निर्देश दिए कि गणेश महोत्सव और मोहर्रम का जुलूस निकलने वाले समस्त मार्गों की व्यवस्थाओं का जायजा लेकर कमियों को दूर करा लें। राजस्व विभाग की वसूली कम पाए जाने पर निर्देश दिए कि लक्ष्य के सापेक्ष वसूली समय से पूर्ण करें। विद्युतीकरण कार्य की प्रगति ठीक न पाए जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए अधिशासी अभियंता अताउल जफर को निर्देश दिए कि गांवो में कैंप लगाकर लोगों को निश्शुल्क बिजली के कनेक्शन दिए जाएं। कहा कि समग्र विकास योजना अंतर्गत चयनित 13 गांवों में युद्ध स्तर पर विकास कार्य कराएं। जिला पूर्ति अधिकारी रामेंद्र प्रताप ¨सह को निर्देश दिए कि आधार कार्ड से वंचित राशन कार्ड में जल्द से जल्द आधार ¨लक कराएं। फोरलेन निर्माण का कार्य तेज गति से किया जाए। उन्होंने समस्त अधिकारियों को निर्देश दिए कि विकास कार्यों में कोई भी समस्या आती है तो तत्काल जिलाधिकारी से मिलकर अपनी समस्या को समाधान करा ले। जनपद में विकास कार्य युद्ध स्तर पर चलना चाहिए। डीएम दिनेश कुमार ¨सह ने जिला कृषि अधिकारी विनोद कुमार को निर्देश दिए कि बाढ़ से नष्ट हुई फसल का सर्वे करके किसानों को फसल बीमा का मुआवजा दिलाएं। इस अवसर पर एसएसपी अशोक कुमार, सीडीओ देवकृष्ण तिवारी, एडीएम वित्त एवं राजस्व महेंद्र ¨सह, एडीएम प्रशासन रामनिवास शर्मा एवं नगर मजिस्ट्रेट सुनील कुमार सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे। पान की पीक देखकर नारा•ा हुए नोडल अधिकारी

जासं, बदायूं : चिकित्सालयों में साफ-सफाई एवं वार्ड में पंखे, रोशनी की व्यवस्थाएं चाक चौबंद रखी जाए। दवाओं की पूर्ति पूर्ण होनी चाहिए। आबकारी आयुक्त धीरज साहू ने जिला महिला चिकित्सालय का औचक निरिक्षण किया। ऑपरेशन थिएटर के कुछ वार्डों में पंखे लगे तो थे, लेकिन वह चल नहीं रहे थे। उन्होंने स्वयं अपने सामने ऑपरेशन थिएटर में समस्त उपकरण चलवाकर चेक किए, जब वह अन्य वार्डों का निरीक्षण करने गए तो अजीब सी बदबू आ रही थी। उन्होंने शौचालय खोलवाया तो गंदा निकला। दीवारों पर पान की पीक, गंदगी देखकर नाराजगी व्यक्त की। व्यवस्थाएं सही न पाए जाने पर उन्होंने प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी मनजीत ¨सह, सीएमएस रेखा रानी को निर्देश दिए कि अस्पताल में सफाई, पंखे, रोशनी एवं दवाओं की उपलब्धता सही कराएं। महिला चिकित्सालय एक सप्ताह के अंदर नई बि¨ल्डग में शिफ्ट करें। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी देवकृष्ण तिवारी, अपर जिलाधिकारी प्रशासन राम निवास शर्मा एवं नगर मजिस्ट्रेट सुनील कुमार सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.