बदायूं में प्यार में गंवाई जान, पहले भी पिट चुके प्रेमी युगल

प्रेमी और किशोरी के घरों में महज 100 मीटर का फासला है। लेकिन इस दूरी के बीच दो परिवारों की बंदिशें दोनों पर रहती थीं। इसकी वजह थी कि प्रेमी के प्रति किशोरी का प्यार। किशोरी कई बार घर से भागकर प्रेमी के घर जा चुकी थी। इस पर दोनों के परिवारों में कई बार टकराव भी हुआ। प्रेमी को मार भी खानी पड़ी।

JagranTue, 27 Jul 2021 01:11 AM (IST)
बदायूं में प्यार में गंवाई जान, पहले भी पिट चुके प्रेमी युगल

बदायूं, जेएनएन : प्रेमी और किशोरी के घरों में महज 100 मीटर का फासला है। लेकिन, इस दूरी के बीच दो परिवारों की बंदिशें दोनों पर रहती थीं। इसकी वजह थी कि प्रेमी के प्रति किशोरी का प्यार। किशोरी कई बार घर से भागकर प्रेमी के घर जा चुकी थी। इस पर दोनों के परिवारों में कई बार टकराव भी हुआ। प्रेमी को मार भी खानी पड़ी। लेकिन, दोनों एक-दूजे से बिछुड़ने को राजी नहीं थे। शायद इसी वजह से पिता के हाथों इस प्रेमी कहानी का खौफनाक अंत हुआ।

बिल्सी थाना के गांव में सोमवार तड़के आनरकिलिग से हर कोई सकते में है। गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। गांव में हत्याकांड की वजह किशोरी के प्रेमी के घर बार-बार जाना बताई जा रही है। दरअसल गांव के व्यक्ति की 17 वर्षीय बेटी के प्रेम संबंध रिश्तेदार के ही बेटे से थे। दो साल के बीच दोनों के बीच प्रेम संबंध इस कदर परवान चढ़े कि दोनों एक-दूजे के साथ जीने मरने की कसमें खाने लगे। कई बार किशोरी स्वजनों की मर्जी के खिलाफ प्रेमी के घर पहुंच गई थी। लेकिन, प्रेमी के स्वजन उसे समझा बुझाकर उसके घर पहुंचा देते थे। इसको लेकर किशोरी के पिता के स्वजन उसे ताने दे रहे थे। इसको लेकर वह बेटी से नाराज रहता था। ग्रामीणों के मुताबिक, पहले भी कई बार दोनों एक साथ पकड़े गए। इस पर किशोरी के पिता ने उनकी पिटाई भी कर दी थी। इसके बावजूद दोनों स्वजन की बात सुनने को राजी नहीं थे। सोमवार तड़के भी लड़की का प्लान प्रेमी के घर भाग जाने का था। लेकिन, इसकी भनक उसके पिता को लग गई। उन्होंने पहले बेटी को रोकने का प्रयास किया। लेकिन, किशोरी के जिद पर अड़े रहने पर उसकी गोली मारकर कर हत्या कर दी। घर से निकलने से पहले शायद उसे भी यह पता नहीं था कि आज के बाद वह कभी प्रेमी से नहीं मिल पाएगी। -----------------------

रिश्ते में थे ममेरे भाई-बहन, किशोरी के स्वजन को पसंद नहीं था रिश्ता

बदायूं, जेएनएन : प्रेमी के ताऊ और किशोरी के पिता के बीच साले-बहनोई का रिश्ता है। इस रिश्ते से किशोरी प्रेमी की ममेरी बहन लगती थी। ममेरे भाई- बहन के रिश्ते में शादी को लेकर प्रेमी के स्वजन तो तैयार थे। लेकिन, किशोरी के स्वजन तैयार नहीं थे। प्रेमी के ताऊ ने बताया, किशोरी के पिता भी एक बार को शादी के लिए तैयार हो गए। लेकिन, उनके स्वजन ने यह शादी नहीं करने की सलाह दी। किशोरी के पिता के घर को तबाह करने में उसके अपनों का ही हाथ रहा।

प्रेमी के स्वजन ने बताया कि कि किशोरी की मौत से वह दुखी है। उसे जैसे ही किशोरी की हत्या के बारे में पता चला। वह पहले उसके घर के पास गया। लेकिन, वहां से वह चुपचाप लौट आया। इसके बाद वह तहरीर लेकर थाने पहुंचा। यहां पुलिस ने उससे पूछताछ की। वह कई घंटे तक थाने पर बैठा भी रहा। इसके बाद वह थाने से सीधे घर पहुंच गया। वह प्रेमिका की मौत के बाद से गुमसुम है। हालांकि पुलिस इस बात से इन्कार कर रही है कि वह थाने आया था। दस साल पुराने तमंचे से किया बेटी का कत्ल

पुलिस ने बेटी के हत्यारोपित पिता को घर से गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस ने हत्यारोपित को कोर्ट के समक्ष पेश करने के बाद उसे जेल भेज दिया। पुलिस ने घटनास्थल से हत्या में इस्तेमाल किए गए तमंचा और कारतूस के खाली खोखा को भी बरामद किया है। पुलिस के मुताबिक, बरामद तमंचा करीब दस साल पुराना है। वह तमंचा शौक और हिफाजत के तौर पर रखता था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.