top menutop menutop menu

डीजल-पेट्रोल मूल्य वृद्धि के खिलाफ गरजे कांग्रेसी

जागरण संवाददाता, बदायूं : लगातार बढ़ रही डीजल-पेट्रोल की कीमतों को मुद्दा बनाकर कांग्रेस ने आंदोलन शुरू कर दिया है। शनिवार को कार्यकर्ताओं ने ब्लॉक स्तर पर धरना-प्रदर्शन कर सरकार पर निशाना साधा और बढ़ी कीमतों को वापस लिए जाने की मांग की। प्रांतीय आह्वान पर उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व महासचिव ओमकार सिंह के नेतृत्व में सालारपुर, दातागंज, बिसौली, आसफपुर, सहसवान, वजीरगंज समेत सभी ब्लॉकों पर धरना-प्रदर्शन किया गया। ओमकार सिंह ने कहा कि कोरोना महामारी में उद्योग-धंधे बंद हो गए हैं। लाखों लोग बेरोजगार हो गए हैं। अब डीजल-पेट्रोल की बढ़ती कीमतों से महंगाई बढ़ने लगी है। सरकार को बढ़ी कीमतें वापस लेनी चाहिए। इस दौरान वफाती मियां, लाल मियां, शेर सिंह, अकबर अहमद, वीरपाल यादव, डॉ.शैलेश पाठक, युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष शफी अहमद, मुशाहिद खान, अरबाज रजी आदि मौजूद रहे। उधर, निर्वतमान जिलाध्यक्ष साजिद अली के नेतृत्व में भी कार्यकर्ताओं ने विभिन्न ब्लॉकों पर धरना-प्रदर्शन किया। जाबिर हुसैन, आजम अली, जाहिद गाजी, प्रतीक राठौर आदि मौजूद रहे। बिसौली : कांग्रेस के जिला महासचिव सीएल वर्मा के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने बीडीओ को एक ज्ञापन सौंपा। सरकार से पेट्रो कीमतों में लगातार वृद्धि को वापस लिए जाने की मांग की।

सीएल वर्मा ने कहा कि कांग्रेस शासनकाल में कच्चे तेल की कीमत 108 अमेरिकी डालर प्रति बैरल था जबकि अब 43 अमेरिकी डालर है। बावजूद इसके मोदी सरकार ने पेट्रो कीमतों को आसमान तक पहुंचा दिया है। सतानंदपाल, भगवानदास मौर्य, डॉ. शहजादे सलीम, रवेंद्र, शिशुपाल आदि मौजूद रहे। नाधा : कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने डीजल-पेट्रोल मूल्य वृद्धि के खिलाफ बीडीओ को राष्ट्रपति के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा। जिला महासचिव अरविद यादव, मीलाल यादव, खेमपाल सिंह, सत्यवीर सिंह, विपिन कुमार, प्रेम सिंह, नेत्रपाल, चरण सिंह आदि मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.