बदायूं में गुजरात से आई 76 हजार बोरी खाद, किसानों को राहत

जनपद के किसानों के लिए राहत भरी खबर है। गुरुवार को गुजरात से मालगाड़ी से 38 एमटी खाद उझानी रेलवे स्टेशन पर पहुंच गई। मालगाड़ी में लोड खाद को ट्रैक्टर ट्रालियों में लादकर सक्रिय समितियों इफकों केंद्रों और गोदामों में आवंटित की गई। अफसरों का दावा है कि अब खाद की कोई कमी महसूस नहीं होगी।

JagranFri, 03 Dec 2021 01:16 AM (IST)
बदायूं में गुजरात से आई 76 हजार बोरी खाद, किसानों को राहत

बदायूं, जेएनएन: जनपद के किसानों के लिए राहत भरी खबर है। गुरुवार को गुजरात से मालगाड़ी से 38 एमटी खाद उझानी रेलवे स्टेशन पर पहुंच गई। मालगाड़ी में लोड खाद को ट्रैक्टर ट्रालियों में लादकर सक्रिय समितियों, इफकों केंद्रों और गोदामों में आवंटित की गई। अफसरों का दावा है कि अब खाद की कोई कमी महसूस नहीं होगी। जनपद में खाद की भरपूर उपलब्धता हो चुकी है।

रबी के सीजन में गेहूं, सरसों, मसूर और आलू की फसल यूरिया खाद मांग रही है। लेकिन, किसानों को पर्याप्त खाद नहीं मिल पा रही थी। इसलिए किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। जिला प्रशासन ने खाद की कमी को देखते हुए 15 दिन पूर्व गुजरात से 70 हजार बोरी खाद मंगाई थी। जोकि वितरण के बाद खत्म हो गई। बावजूद स्टाक रखने के लिए कृषि विभाग के पास एक लाख बोरी खाद का स्टाक था। इसी बीच स्टाक को बरकरार रखने के अलावा खाद की कहीं किल्लत न हो इसके लिए गुजरात से और खाद मांगने का निर्णय लिया गया। गुरुवार को 38 एमटी यानि 76 हजार खाद की बोरी की रैक गुजरात से उझानी रेलवे स्टेशन पर मालगाड़ी पहुंची। यहां अफसरों की देखरेख में खाद का वितरण किया गया। जिले की 72 सक्रिय समितियों पर भी खाद का आंवटन कर दिया गया है। इस संबंध में जिला कृषि अधिकारी डीके सिंह ने बताया कि गुजरात से 76 हजार बोरी खाद यहां आ गई है। सहकारी समितियों समेत इफको केंद्रों पर खाद का वितरण किया जा रहा है। अब किसानों के लिए कहीं भी खाद की कमी महसूस नहीं होगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.