Weather Update Azamgarh : आजमगढ़ जिले में पारा लुढ़का, आबोहवा भी हुई खराब

आजमगढ़ जिले में सर्दी सितम ढहाने की ओर बढ़ चली है।

आजमगढ़ जिले में सर्दी सितम ढहाने की ओर बढ़ चली है। गुरुवार को पारा लुढ़ककर 12 डिग्री सेल्सियस तक आ पहुंचने के कारण तड़के मौसम लोगों के लिए सिरदर्द बन रहा। मौसम में तेज उलटफेर की आहट बुधावार को शाम ढलने के साथ ही लग गई थी।

Publish Date:Thu, 26 Nov 2020 08:57 AM (IST) Author: Abhishek Sharma

आजमगढ़, जेएनएन। लगातार कम हो रहे पारे के बीच सर्दी अब सितम की ओर बढ़ चली है। गुरुवार को पारा लुढ़ककर 12 डिग्री सेल्सियस तक आ पहुंचने के कारण तड़के मौसम लोगों के लिए सिरदर्द बन रहा। मौसम में तेज उलटफेर की आहट बुधावार को शाम ढलने के साथ ही लग गई थी। ठंड बढ़ने के कारण ग्रामीण इलाकों में लोग अपने दरवाजों पर अलाव का सहारा लेते नजर आए। मौसम की उलटेफेर के रवैये को देखते हुए मौसम विज्ञानियों ने गुरुवार को दिन में अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना जताई है।

बुधवार की रात रात नौ बजे तापमान 18 डिग्री सेल्सियस रहा जो रात 12 बजे 15 डिग्री सेल्सियस पर जा पहुंचा था। इस तरह 24 घंटे के अंतराल में पारे में छह डिग्री सेल्सियस की गिरावट जनमानस की मुश्किलें बढ़ाने वाली हैं। आज दिनभर हल्के बादल छाए रहने की आशंका है। इन दुश्वारियों के कारण सांस के रोगियों के लिए भी मुश्किलें बढ़ेंगी। वायु गुणवत्ता भी खराब होने की राह पर बढ़ चली है। एयर क्वालिटी इंडेक्स की संख्या 251 दर्ज की गई है। इसे श्वांस लेेने के लिए बेहतर नहीं माना जाता है।

यह जनसामान्य की सेहत के लिए ठीक न होने के साथ श्वास रोगियों के लिए मुश्किलें खड़ी करने वाला रहेगा। चिकित्सकों ने ऐसी स्थिति में मास्क लगाने की सलाह दी है। जानकारों के मुताबिक एयर क्वालिटी इंडेक्स की छह श्रेणियों में 0 से 100 तक ही सांस लेने योग्य माना गया है। लेकिन इन दुश्वारियों से बेखबर लोग बगैर मास्क लगाए ही सड़कों पर सेहत बनाते हुए नजर आए। चिकित्सकों ने तड़के चार बजे की बजाए सुबह छह बजे तक टहलने निकलने को ज्यादा फायदेमंद बताया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.