कोचिग से लौट रही भतीजी को मारी गोली

सगड़ी (आजमगढ़) कोचिग से लौट रही भतीजी को सिरफिरे ने गोली मार दी। हमलावर रिश्ते में चाचा बताया गया है। घटना के बाद परिवार के लोग हतप्रभ रह गए।

JagranSun, 26 Sep 2021 08:27 PM (IST)
कोचिग से लौट रही भतीजी को मारी गोली

जागरण संवाददाता, सगड़ी (आजमगढ़) : कोचिग से लौट रही भतीजी को सिरफिरे ने गोली मार दी। हमलावर रिश्ते में चाचा बताया गया है। घटना के बाद परिवार के लोग हतप्रभ रह गए। गले में गोली लगने से गंभीर रूप से घायल युवती को मंडलीय जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चिकित्सकों ने युवती की हालत फिलहाल स्थिर बताई है। वारदात के पीछे भूमि को लेकर पुरानी रंजिश को कारण माना जा रहा है। जीयनपुर पुलिस आरोपित की गिरफ्तारी को देर रात तक दबिश देती रही, लेकिन हमलावर हत्थे नहीं चढ़ सका था।

केशवपुर महमूदपट्टी निवासी राजेश की बेटी अनामिका कोचिग पढ़ाती है।वह शाम करीब साढ़े चार बजे कोचिग से लौट रही थी।घर से कुछ दूर पहले ही घात लगाए बैठे चाचा ने उसे गोली मार दी। गोली की आवाज सुनकर गांव में लोग सहम उठे। उसी दौरान अनामिका की चीख सुनाई पड़ी तो भागकर उसके पास पहुंच गए। वह जमीन पर खून से लथपथ पड़ी थी। वारदात करने के बाद हमलावर मौके से भाग निकला। बिटिया की जान सांसत में देख स्वजन आनन-फानन उसे लेकर जिला अस्पताल भागे। डाक्टर ने देखा तो गोली गले के एक किनारे को चीरती हुई निकल गई थी। परिवार के लोग घटना को लेकर हैरत में नजर आए। उनका कहना था कि मुकदमा जमीन का जरूर चल रहा है। इधर बहुत दिनों से दोनों परिवारों में ऐसी कोई घटना नहीं हुई, जिससे जान लेने की नौबत आए। उधर गोली चलने की भनक लगते ही जीयनपुर पुलिस घटनास्थल पर जा पहुंची। दिन के उजाले में हुई घटना के कारण हमलावर के बारे में पता चलते देर नहीं लगी। इंस्पेक्टर जितेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपित के बारे में ग्रामीणों से जानकारी मिली है। उसकी तलाश में दबिश दी जा रही है। उन्होंने बताया कि परिवार की ओर से किसी के खिलाफ नामजद तहरीर नहीं मिली है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.