बनाएं एक देश, एक कानून

आजमगढ़ : प्रताड़ना बचाओ मंच ने बुधवार को एससी-एसटी एक्ट का विरोध जताते हुए जिलाधिकारी कार्यालय के सामने प्रदर्शन किया। पदाधिकारियों ने सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश, राज्यपाल व प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंप 'एक देश, एक कानून' की मांग की। मांग पूरी न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी।

गो¨वद दुबे ने कहा कि एससी-एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के विरुद्ध केंद्र सरकार द्वारा लोकसभा में अध्यादेश लाने से सवर्ण समाज में रोष है। सरकार ने इस फैसले से सामाजिक समरसता पर चोट पहुंचाने का काम किया है। ऐसे कानून से समाज में जातिगत भेदभाव की भावना को बढ़ावा मिलेगा। विवेक पांडेय ने एससी-एसटी एक्ट को सवर्णो के लिए काला कानून बताया। कहा कि इस कानून के प्रभावी होने से इसका दुरुपयोग काफी बढ़ जाएगा। लोग निजी स्वार्थ के लिए किसी भी निर्दोष को साजिश के तहत फंसाकर कानून के साथ खिलवाड़ करेंगे। रजनीश राय एवं जितेंद्र प्रताप ¨सह ने कहा कि इस एक्ट के प्रभावी होने से समाज के एक वर्ग का उत्पीड़न बढ़ेगा। ऐसे में एक्ट में संशोधन की नितांत आवश्यक है, ताकि समय रहते समाज को टूटने से बचाया जा सके और देश में सामाजिक समरसता, अखंडता कायम रह सके। इस अवसर पर ¨प्रस ¨सह, आशीष पांडेय, सोमू ¨सह, रविप्रताप ¨सह, शशांक तिवारी व कुंदन ¨सह सहित आदि उपस्थित थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.