नौ माह से नही मिला मानदेय, कमिश्नर से मिले संविदाकर्मी

= चिंताजनक - उच्चाधिकारियों के आदेश पर भी जेम पोर्टल पर दर्ज नहीं हुए नाम - एकजुटता दि

JagranPublish:Fri, 03 Dec 2021 07:38 PM (IST) Updated:Fri, 03 Dec 2021 07:38 PM (IST)
नौ माह से नही मिला मानदेय, कमिश्नर से मिले संविदाकर्मी
नौ माह से नही मिला मानदेय, कमिश्नर से मिले संविदाकर्मी

= चिंताजनक

- उच्चाधिकारियों के आदेश पर भी जेम पोर्टल पर दर्ज नहीं हुए नाम

- एकजुटता दिखाने को कई विभागों के कर्मचारी पहुंचे थे ज्ञापन देने जागरण संवाददाता आजमगढ़: नौ माह से नहीं मिल रहे मानदेय से परेशान नगर पालिका के संविदाकर्मी शुक्रवार को कमिश्नर विजय विश्वास पंत को ज्ञापन सौंप मदद की गुहार लगाई। एकजुटता दिखाने को जलकल विभाग, बिजली विभाग के आउटर्सोसिग और डेलीवेजेज के कर्मचारी पहुंचे थे। कर्मचारियों ने शिकायतीपत्र के माध्यम से अवगत कराया कि दिसंबर 2019 के बाद उन्हें कोई मानदेय नही मिला है। कर्मचारियों ने शिकायत मुख्यमंत्री पोर्टल पर भी की, लेकिन आज तक कारवाई नही हुई। वहीं कर्मचारियों ने नगर पालिका आजमगढ़ पर आरोप लगाते हुए कहा कि मंडलायुक्त और जिलाधिकारी के आदेश पर नगर पंचायत के आउटर्सोसिग कर्मचारियों का नाम जेम पोर्टल पर पंजीकृत कर दिया गया, लेकिन कर्मचारियों का नाम जेम पोर्टल पर दर्ज नहीं किया है। सवाल करने पर बार-बार झूठा आश्वासन दिया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि पिछली बार की तरह इस बार भी नगर पालिका टेंडर व्यवस्था में फंसा कर रखना चाहती है। जिससे कर्मचारियों का शोषण और भष्ट्राचार किया जा सके। मानदेय भी कभी 4500 तो कई बार 5000 दिया जाता है। अरविद कुमार,अमन यादव, राहुल सिंह, रामकेवल, रविद्र यादव, अमरजीत सहित अन्य लोग उपस्थित थे।