यमुना नदी में फेंका शव तो संबंधित पर मुकदमा तय

यमुना नदी में फेंका शव तो संबंधित पर मुकदमा तय

जागरण संवाददाता औरैया कोरोना संक्रमण की वजह से कई लोगों की मौत हो चुकी है। कोविड

JagranMon, 17 May 2021 11:25 PM (IST)

जागरण संवाददाता, औरैया: कोरोना संक्रमण की वजह से कई लोगों की मौत हो चुकी है। कोविड प्रोटोकॉल के तहत शव का अंतिम संस्कार की लगातार अपील शासन प्रशासन कर रहा है। बावजूद कुछ लोग शव की बेकद्री पर आमद हैं। जिन्हें सबक सीखने के लिए पुलिस ने सख्ती बरतनी शुरू की है। सोमवार को शवों की बेकद्री रोकने लिए यमुना नदी किनारे घाट व पुलों पर पुलिस मुस्तैद रही। जान बूझकर यमुना नदी में शव फेंकने वालों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने की बात पुलिस कर्मियों ने कही।

शवों की बेकद्री न हो इसके लिए पुलिस व जिला प्रशासन सजग है। जिले के श्मशान घाटों व यमुना नदी के किनारों पर पुलिस को सजग कर दिया गया है। शवों के अंतिम संस्कार करने में कोई कोताही न बरती जाए, इसके लिए कोतवाली व थाना प्रभारियों को भी सजग किया गया है। औरैया से करीब दो किमी दूर शेरगढ़ घाट पर यमुना किनारे बीते दिनों अधजले शव उतराते मिले थे। वहीं बीझलपुर स्थित नदी पर बने पांटून पुल के पास मवेशियों के शव। कुछ शव यमुना नदी में उतारते मिले। इससे नदी का पानी प्रदूषित हो रहा है। दैनिक जागरण ने इस मसले को गंभीरता के साथ उजागर किया था। जिस पर पुलिस ने सख्ती बरतनी शुरू की है। जुहीखा पुल पर सोमवार को पुलिस की कड़ी निगरानी रही। थाना अयाना की चौकी बबाइन के चौकी प्रभारी देवी सहाय वर्मा हमराही जगदीश गुर्जर व अन्य सह कर्मियों के साथ पुल पर मुस्तैद नजर आए। पांटून पुल पर भी पुलिस का पहरा रहा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.