गजरौला में दंपती को नशीला पदार्थ सुंघाकर 12 लाख लूटे, घर में रखे दो लाख रुपये व समेत 15 तोला सोना व कपड़े ले गए बदमाश

गजरौला में दंपती को नशीला पदार्थ सुंघाकर 12 लाख लूटे, घर में रखे दो लाख रुपये व समेत 15 तोला सोना व कपड़े ले गए बदमाश
Publish Date:Sun, 20 Sep 2020 01:01 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, गजरौला : बदमाशों ने पुलिस को चुनौती देते हुए गांव मोहरका पट्टी में घर में सो रहे कपड़ा कारोबारी व उनकी पत्नी को नशीला पदार्थ सुंघाकर दो लाख रुपये की नगदी सहित लगभग 12 लाख रुपये के सोने चांदी के आभूषण लूट लिए। घटना की जानकारी होने पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। मामला पुलिस को संदिग्ध प्रतीत हो रहा है। इसलिए अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

वारदात थाना क्षेत्र के गांव मोहरका पट्टी में गुरुवार रात करीब डेढ़ बजे हुई। कपड़ा कारोबार करने वाले महबूब अली अपनी पत्नी नाजमा साथ घर के बरामदे में सो रहे थे। आरोप है कि इस दौरान छत के रास्ते से घर में घुसे तीन-चार बदमाशों ने दोनों को हथियारों के बल पर कब्जे में लेकर नशीला पदार्थ सुंघाकर बेहोश कर दिया। इसके बाद घर में रखे कमेटी के दो लाख रुपये समेत लगभग 12 लाख रुपये के सोने चांदी के आभूषण व कपड़े लूटकर फरार हो गए। घटना की जानकारी शनिवार की सुबह उस समय हुई जब घर के बाहर सो रहे महबूब के पिता कय्यूम ने कई बार गेट खटखटाया। काफी देर तक गेट खटखटाने के बाद कोई आवाजाही न होने पर एक युवक को दीवार फांदकर घर के अंदर भेजा और गेट खुलवाया। इसके बाद देखा तो महबूब व उसकी पत्नी बेहोशी की हालत में थे और घर का सामान बिखरा पड़ा था। घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। आसपास के लोगों की भी भीड़ जुट गई। पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लेते हुए बेहोश पति-पत्नी को उपचार के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। हालांकि देर शाम तक इस मामले में पुलिस द्वारा कोई लिखा-पढ़ी नहीं की गई थी। चूंकि घटना को पुलिस संदिग्ध मान रही है। प्रभारी निरीक्षक आरपी शर्मा ने बताया कि पीड़ित दंपती द्वारा बार-बार बयान बदले जा रहे हैं। घटना की थ्योरी भी झोल है। इसलिए घटना संदिग्ध प्रतीत हो रही है। फिलहाल चल रही है। इसके बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

अपराध पर लगाम कसने में हल्का प्रभारी नाकाम : स्थानीय थाने का हल्का नंबर-1 यानी खादर क्षेत्र में लूट, चोरी के साथ-साथ सट्टे का कारोबार भी तेजी के साथ फलफूल रहा है। लेकिन, हल्के के प्रभारी उस पर लगाम कसने में नाकाम साबित हो रहे हैं। इतना ही नहीं हल्के के चर्चित सिपाही द्वारा भी अभी हाल में ही एक खनन की ट्रैक्टर-ट्राली छोड़ने का मामला सामने आया था। इसी सिपाही के हाथ से शराब का धंधेबाज श्योराज छूटकर भागा था। हालांकि लगभग एक माह बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया था।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.