टीकाकरण में शारीरिक दूरी का पालन नहीं, बढ़ा खतरा

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में सुबह कोरोना वैक्सीन टीकाकरण के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। जिनमें महिलाएं भी शामिल थीं। भारी भीड़ देख पुलिस की भी तैनाती करनी पड़ी।

JagranSun, 01 Aug 2021 12:19 AM (IST)
टीकाकरण में शारीरिक दूरी का पालन नहीं, बढ़ा खतरा

अमेठी : कोरोना प्रोटोकाल का पालन करने के लिए 31 अगस्त तक का समय बढ़ा दिया गया है। लेकिन, यहां प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में इसका कोई प्रभाव नहीं दिख रहा है। टीकाकरण के दौरान कोरोना प्रोटोकाल को नजर अंदाज किया जा रहा है।

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में सुबह कोरोना वैक्सीन टीकाकरण के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। जिनमें महिलाएं भी शामिल थीं। भारी भीड़ देख पुलिस की भी तैनाती करनी पड़ी। इसके बाद भी न तो यहां शारीरिक दूरी का पालन कराने की सुध जिम्मेदारों को हुई और न ही मास्क की अनिवार्यता पर ही ध्यान दिया गया।

कोरोना संक्रमण को जड़ से समाप्त करने व तीसरी संभावित लहर से निपटने के लिए कोरोना वैक्सीन टीकाकरण अभियान को तेज कर दिया गया है। साथ ही इसके प्रति लोगों को पालिका प्रशासन जागरूक भी कर रहा है। इसी का नजीता है कि प्रतिदिन बड़ी संख्या में नागरिक टीका लगवाने के लिए संबंधित केंद्रों पर पहुंच रहे है।

जिम्मेदार के बोल : सीएचसी फुरसतगंज के अधीक्षक डा. एचपी यादव ने बताया कि प्रतिदिन टीकाकरण के लिए बड़ी संख्या में लोग आ रहे है। जहां सौ, डेढ़ सौ लोगों को टीका लगता था। वहीं अब तीन सौ लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है। वैक्सीन की संख्या और अधिक बढ़ाई जाएगी और कोरोना प्रोटोकाल का पालन किया जाए। इसकी जिम्मेदारी पुलिस की है।

पढ़ें अन्य खबरें..

जल्द शुरू होगा आक्सीजन जेनरेशन प्लांट

अमेठी : सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फुरसतगंज परिसर में द्वारिकेश शुगर मिल द्वारा सीएसआर के अंतर्गत स्थापित कराए जा रहे आक्सीजन जनरेशन प्लांट का जल्द शुभारंभ होगा।

जिलाधिकारी अरुण कुमार ने शनिवार को सीएचसी पहुंच आक्सीजन जेनरेशन प्लांट का स्थलीय निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश देते हुए समय से काम पूरा करने की बात कही। आक्सीजन प्लांट के लिए प्लेटफार्म बनकर तैयार हो गया है और मशीन व उपकरण भी आ गए हैं। जिलाधिकारी ने तीन दिन के अंदर शेष कार्य पूर्ण कर प्लांट संचालित करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. आशुतोष दुबे ने बताया कि प्लांट द्वारिकेश शुगर मिल द्वारा स्थापित कराया जा रहा है। इस प्लांट से प्रतिदिन दो सौ एलपीएम आक्सीजन का उत्पादन हो सकेगा। उन्होंने बताया कि प्लांट स्थापित होने के उपरांत पाइपलाइन बिछाने का कार्य और सीएचसी में 25 आक्सीजन युक्त बेड तैयार कराए जाएंगे। निरीक्षण के समय सीएचसी अधीक्षक डा. एचपी यादव सहित सभी जिम्मेदार अधिकारी मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.