लोगों ने खरीदी मिठाई, श्रीगणेश व लक्ष्मी पूजन आज

अमेठी दीपों के पर्व दीपावली की पूर्वसंध्या पर शहर में मेले सा माहौल नजर आया। मिठाईयों की

JagranPublish:Wed, 03 Nov 2021 11:40 PM (IST) Updated:Wed, 03 Nov 2021 11:40 PM (IST)
लोगों ने खरीदी मिठाई, श्रीगणेश व लक्ष्मी पूजन आज
लोगों ने खरीदी मिठाई, श्रीगणेश व लक्ष्मी पूजन आज

अमेठी : दीपों के पर्व दीपावली की पूर्वसंध्या पर शहर में मेले सा माहौल नजर आया। मिठाईयों की दुकानों से लेकर मूर्तियों व साजो सामान की दुकानों पर काफी भीड़ रही। चूरा के साथ खिलौनों की भी जमकर लोगों ने खरीददारी की। दीपोत्सव मनाने के लिए लोगों ने मिट्टी का दीया खरीदते दिखे। तो वहीं घरों की सुंदरता बढ़ाने के लिए लोगों ने फूल के साथ ही रंग बिरंगी झालर खरीदे। बाजार में श्रीगणेश-लक्ष्मी की तरह-तरह की मूर्तियां व चाईनीज झालरें लोगों के आकर्षण का केंद्र रही। मिठाईयों की दुकानों पर भी लोगों का जमावड़ा देखा गया। गौरीगंज में कल्पतरु स्वीट के संचालक विक्रम सिंह ने बताया कि इस दिवाली पर शहद-खजूर से तैयार स्पेशल लड्डू व रायल मिठाईयां लोगों की पसंद रही। वटर स्कॉच वर्फी, केसर ताम्बूल गिलौरी, चॉकलेट पुडिग वर्फी के साथ ही ड्राईफूड की मांग अधिक रही।

-पूजन के लिए है तीन शुभ मुहुर्त

दीपोत्सव मनाने से पहले लोग श्री गणेश-लक्ष्मी का पूजन विधि विधान से करते है। पूजन करने से पहले घर की साफ-सफाई के बाद फूल आदि से सजाते है। उसके बाद वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ श्रीगणेश-लक्ष्मी की आराधना करते है। गौरीगंज के पूरे रोहिणी सरायभागमानी निवासी पं.अमित शास्त्री के अनुसार पूजन के लिए तीन शुभ मुहुर्त है। दिन में 01:14 से 02:46 बजे, 05:52 से 07:49 तक श्री गणेश-लक्ष्मी का पूजन का मुहुर्त है। तीसरा मुहुर्त महानिशा में 12:20 से 02:36 तक का माना गया है। सनातन धर्म के अनुसार दिवाली वाले दिन भगवान श्री गणेश, देवी लक्ष्मी के साथ धन के देवता कुबेर व मां सरस्वती की पूजा करने से लाभ मिलता है।