सौ से अधिक मरीज ठीक होने के बाद भेजे गए घर

सौ से अधिक मरीज ठीक होने के बाद भेजे गए घर

एसडीएम व सीओ ने तहसील के कस्बों को किया भ्रमण लोगों से पूछा घर से बाहर निकलने का कारण सौ से अधिक संक्रमितों को अस्पताल से मिली छुट्टी।

JagranFri, 07 May 2021 12:20 AM (IST)

अमेठी : कोरोना से संक्रमित एक सौ से अधिक मरीज ठीक होने के बाद घर भेजे गए हैं। जब कि 140 भर्ती मरीजों का उपचार चल रहा है। 122 नए संक्रमित सामने आए हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा आरटीपीसीआर के 837 सैंपल जांच के लिए भेजा था। जब कि 927 लोगों की एंटीजन के साथ 1764 लोगों की जांच कराई गई। आई रिपोर्ट में 122 संक्रमित निकले हैं।

111 संक्रमितों के ठीक होने पर उन्हें अस्पताल से घर भेज दिया गया है। वहीं 140 भर्ती मरीजों का उपचार चल रहा है। इसमें सौ मरीज जिला अस्पताल में व 40 तिलोई के कोविड अस्पताल में भर्ती हैं। सीएमओ डॉ. आशुतोष कुमार दुबे ने कहा कि हालत सामान्य हो रहे हैं। उन्होंने लोगों को बिना काम के घर से न निकलने की सलाह दी है। बहुत जरूरत पड़ने पर मास्क लगाकर ही घर से बाहर निकलें।

संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए सख्ती आवश्यक :

कोरोना महामारी के फैलते संक्रमण पर अंकुश लगाने के लिए लगाये गये लाकडाउन का सख्ती के साथ अनुपालन कराने के लिए एसडीएम ने स्वयं कमान संभाल ली है। गुरुवार को एसडीएम ने तहसील क्षेत्र के प्रमुख कस्बों व चौराहों का भ्रमण किया और लोगों को घर पर रहें, सुरक्षित रहें का पाठ पढ़ाया है। लाकडाउन का उल्लंघन व खाद्य सामग्री की कालाबाजारी करने वाले के खिलाफ कार्रवाई किए जाने का निर्देश मातहतों को दिया है। उपजिलाधिकारी योगेंद्र कुमार सिंह, सीओ आनंद कुमार व थाना मोहनगंज के प्रभारी निरीक्षक भरत उपाध्याय दोपहर में राहगीरों से घर से बाहर निकलने की वजह जानने में जुटे रहे। एसडीएम ने कस्बा मोहनगंज, तिलोई, शाहमऊ, शंकरगंज सहित अन्य कई प्रमुख चौराहों का भ्रमण कर लाकडाउन की हकीकत परखी। एसडीएम व सीओ ने मास्क न लगाने वाले लोगों से जुर्माना वसूलकर फटकार लगाई है। उन्होंने कहा कि खाद्य पदार्थों को मंहगे दामों में बेंचने की शिकायत मिलने पर दुकानदार को बख्शा नहीं जायेगा। उपजिलाधिकारी ने कहा कि लाकडाउन का अनुपालन कड़ाई से कराया जा रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.