झूमकर बरस रहे काले मेघ, रास्ते-जलाशय और खेत-खलिहान जलमग्न

दो दिनों से लगातार हो रही बारिश से गांव-गलियां सड़क जलाशय एवं खेत-खलिहान लबालब हो गए।

JagranThu, 16 Sep 2021 11:14 PM (IST)
झूमकर बरस रहे काले मेघ, रास्ते-जलाशय और खेत-खलिहान जलमग्न

अंबेडकरनगर: दो दिनों से लगातार हो रही बारिश से गांव-गलियां, सड़क, जलाशय एवं खेत-खलिहान तक जलमग्न हो गए हैं। हवाएं तेज होने से जगह-जगह पेड़, बिजली के खंभे और कच्चे घर भी गिर गए। जिले से प्रवाहित छोटी नदियों का जलस्तर भी तेजी से बढ़ रहा है। हालांकि अभी तक कहीं से जन एवं जीव हानि की सूचना नहीं है। अतिवृष्टि का अब खेती-किसानी पर भी प्रतिकूल असर पड़ने लगा है। मौसम विभाग ने बारिश के जारी रहने का अनुमान लगाया है।

जलभराव बना मुसीबत: झमाझम बारिश से जिला मुख्यालय एवं ग्रामीणांचल की सड़कों पर जलभराव की समस्या उत्पन्न हो गई है। अकबरपुर में शीतला आश्रम, लोक निर्माण विभाग कार्यालय, बस अड्डा समेत कलेक्ट्रेट, विकास भवन, कृषि भवन, बिजली कार्यालय एवं परिसर में जलभराव मुसीबत बना है। हर साल बारिश में समस्या से परिचित होने के बाद भी पालिका प्रशासन सजग नहीं है। कटेहरी बाजार में जलनिकासी का इंतजाम नहीं होने से मुख्यमार्ग पर पानी भरा है। इससे सड़कों के बर्बाद होने का खतरा है। आलापुर तहसील में बदहाल सड़कें जलभराव से तालाब बन गई हैं। ऐसा ही नजारा ग्रामीणांचल की प्रमुख एवं संपर्क मार्गों पर दिखा।

खेती-किसानी पर बरस रही आफत: सूखे के संकट से जूझ रही धान की फसल के लिए शुरुआती दौर में बारिश से काफी राहत मिली। इससे किसानों के चेहरे खिल गए, लेकिन दूसरे दिन भी बारिश नहीं थमने एवं हवा तेज होने से धान के साथ गन्ने की फसल धराशाई हो गई। बारिश के पानी में फसलों के डूबने से धान और गन्ने के अलावा सब्जियों की फसल को काफी नुकसान होने वाला है। यह देख अन्नदाता परेशान हैं।

रिमझिम बारिश से गिरा घर: अकबरपुर तहसील के बरियावन में अतिवृष्टि से इंद्रावती का कच्चा घर गिर गया, हालांकि कोई घायल नहीं हुआ है। इसके नीचे दबने से घर में रखा बर्तन, बिस्तर, राशन आदि दब गया। पूरा परिवार टिनशेड में जीवन गुजार रहा है। पीड़ित परिवार ने प्रशासन से आर्थिक मदद की मांग की है। बारिश से कच्चे मकान एवं छप्पर में निवास करना गरीब परिवारों के लिए चुनौती बना है। ये परिवार रातभर जाग कर गुजारा कर रहे हैं। बरसात व्यवसाय पर असर डाल रहा है।

मौसम हुआ सुहाना: बारिश से मौसम सुहाना होते ही भीषण गर्मी व उमस से राहत मिल गई। बारिश का लुत्फ उठाते लोग घर की छतों और सड़क समेत पार्क में नजर आए। जिले का तापमान अधिकतम 26 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम 24 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मौसम विभाग ने मंगलवार तक लगातार बारिश जारी रहने का संकेत दिया है। इस बीच तापमान में उतार-चढ़ाव जारी रहेगा।

बारिश से रहा सन्नाटा : लगातर होती बारिश से सड़क से लेकर सरकारी एवं निजी कार्यालयों तक सन्नाटा पसरा रहा। शिकायत और जरूरतों को लेकर कोई भी नजर नहीं आया। डीएम और सीडीओ सहित अन्य कार्यालयों में अधिकारी फरियादियों के इंतजार में बैठे रहे। बाजार में पटरी दुकानदारों की दुकानें बंद हो गई हैं। स्थायी दुकानों पर ग्राहक नहीं पहुंच रहे हैं।

महरुआ :भीटी तहसील के नरसिंहदास पुर गांव के रामराज सिंह का बुधवार भोर में कच्चा मकान अचानक भर भराकर गिर गया। इसमें रखा तीन क्विंटल गेहूं, एक क्विंटल चावल, चारपाई सहित खाद्य सामग्री मिट्टी में दबकर नष्ट हो गई।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.