बाबा साहब ने सभी को दिलाई सम्मान से जीने की आजादी

दलितों के मसीहा और संविधान प्रारूप समिति के अध्यक्ष डा. भीमराव आंबेडकर का परिनिर्वाण दिवस मनाया गया।

JagranPublish:Mon, 06 Dec 2021 09:59 PM (IST) Updated:Mon, 06 Dec 2021 09:59 PM (IST)
बाबा साहब ने सभी को दिलाई सम्मान से जीने की आजादी
बाबा साहब ने सभी को दिलाई सम्मान से जीने की आजादी

अंबेडकरनगर : दलितों के मसीहा और संविधान प्रारूप समिति के अध्यक्ष डा. भीमराव आंबेडकर का परिनिर्वाण दिवस सोमवार को शहर से ग्रामीणांचल तक मनाया गया। राजनीतिक दलों से लेकर सामाजिक संगठनों के सदस्यों ने उनके चित्र पर माल्यार्पण कर शोषित-वंचित समाज के प्रति उनके योगदान को याद किया। सभी ने उनके बताए रास्ते पर चलकर गरीबों के जीवन में उजियारा लाने का संकल्प लिया। अकबरपुर विधानसभा क्षेत्र कार्यालय दोहरीपुर में पूर्व मंत्री राममूर्ति वर्मा ने बाबा साहब के चित्र पर माल्यार्पण कर उनको याद किया।

कांग्रेस पार्टी कार्यालय पर आयोजित कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष अमित वर्मा ने कहा कि डा. आंबेडकर अद्वितीय प्रतिभा के धनी थे। वह एक मनीषी, नायक, विद्वान, दार्शनिक, समाजसेवी और धैर्यवान व्यक्ति थे। पूर्व अध्यक्ष रामकुमार पाल, मीडिया प्रभारी डा. विजय शंकर तिवारी और सांस्कृतिक प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद सैनी ने कहा कि बाबा साहब नाम से लोकप्रिय, अर्थशास्त्री, राजनीतिज्ञ व समाज सुधारक थे। उपाध्यक्ष व प्रवक्ता अवधेश कुमार मिश्र, गुलाम रसूल, सुखीलाल वर्मा, रवीश शुक्ला, शिमला भारती, शीतला प्रसाद श्रीवास्तव, अमित यादव, राम कृपाल, हाजी सलीम, विपुल वर्मा, राकेश वर्मा, राजनाथ दुबे मौजूद रहे।

-----------

विद्युतनगर: शोषित समाज परिषद ने टांडा के ताज तिराहे पर डा. भीमराव की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजिल दी। वक्ताओं ने उनके जीवन पर प्रकाश डालने के साथ दो मिनट का मौन रखा। शोषित समाज परिषद के अध्यक्ष राम आसरे अकेला ने कहा कि देश की जनता कभी भी उनके त्याग और समर्पण को भुला नहीं सकती। शोषितों को अपने संघर्ष के बल पर डा. भीमराव ने उनका अधिकार दिलाने के साथ ही शिक्षा के प्रति लोगों में जागरूकता लाने का काम किया। डा. गौरीशंकर ने कहा कि डा. आंबेडकर सभी के प्रेरणास्त्रोत हैं। सभी को उनके जीवन से प्रेरणा लेकर राष्ट्र और समाज के हित के लिए काम करना चाहिए। कार्यक्रम के अंत में दो मिनट का मौन रखा गया। यशवंत राव, मिश्रीलाल चौधरी, अनिल कुमार, मनोज कुमार, मेवालाल गौतम, बृजलाल मौजूद रहे।

-------------

किछौछा: बसखारी थाने के पीछे बुध विहार में आयोजित कार्यक्रम में पूर्व सांसद त्रिभुवन दत्त ने कहा कि बाबा साहब की बदौलत ही समाज के दबे-कुचले लोगों को स्वाभिमान से जीने का मौका मिला है। इसके लिए पूरा समाज उनका आजीवन ऋणी रहेगा। ग्रामसभा मोतिगरपुर तथा सहदेई देवी बालिका इंटर कालेज बुढ़नापुर बसखारी में भीमराव की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। पूर्व एमएलसी विशाल वर्मा ने कहा कि भारत का संविधान विश्व में सबसे व्यापक है, जो सभी नागरिकों की रक्षा एवं सुरक्षा करता है। धर्मेंद्र कुमार गौतम, प्रमोद चौरसिया, प्रह्लाद गौतम, फूलचंद वर्मा, इन्द्रदेव मौर्य, ललित यादव, दिनेश वर्मा, नीलकमल, विनोद, उदयराज गौतम, सियाराम गौतम, भैरोदीन मौजूद रहे।

महरुआ: आनंदनगर चौक पर संविधान निर्माता भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा पर रंजीत कुमार, नितीश कुमार, श्याम नाथ, अभिषेक, इंद्रजीत, रामजीत भारती, शशिधर प्रजापति, रामनयन, सदाराम आदि लोगों ने माल्यार्पण किया।