देव दीपावली पर प्रयागराज में गंगा किनारे बिखरी दीपों से अदभुत छटा, मानो तारे उतर आए जमीं पर

सूर्यास्त होते ही एक लाख दीपों की जगमगाहट से गंगा किनारे मानों असंख्य तारे धरती पर उतर आए हों।

Dev Deepavali Prayagraj हर साल यह कार्यक्रम भव्य रूप में संगम तट पर होता था। सांस्कृतिक कार्यक्रमों सहित कई आयोजन होते थे। अबकी भजन संध्या का ही आयोजन कराया गया। गंगा जी की भव्य आरती की गई। आरती और दीप प्रज्ज्वलन को देखने के लिए भीड़ लगी रही।

Publish Date:Mon, 30 Nov 2020 10:28 PM (IST) Author: Ankur Tripathi

प्रयागराज, जेएनएन। देव दीपावली के अवसर पर सोमवार की शाम को गंगा, यमुना और अदृश्य सरस्वती का तट दीपों से रोशन हो उठा। सूर्यास्त होते ही एक लाख दीपों की जगमगाहट से गंगा किनारे मानों असंख्य तारे धरती पर उतर आए हों। जिला प्रशासन की ओर से किए गए इंतजाम, विभिन्न स्वयं सेवी संगठनों की ओर से दीप जलाने की प्रक्रिया करीब घंटे भर चली। अलग-अलग स्थानों पर 12 तरह की आकृतियों की रंगोली पर रखे गए दीप घाट की शोभा बढ़ा रहे थे। इस नजारे को देखने के लिए शहर से लोग पहुंचे लेकिन फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए जगह-जगह बैरिकेडिंग की गई थी। जिससे आगे बढऩे के लिए लोगों को मशक्कत करनी पड़ी।  

अबकी संगम पर केवल भजन संध्या

हर साल यह कार्यक्रम भव्य रूप में संगम तट पर होता था। सांस्कृतिक कार्यक्रमों सहित कई आयोजन होते थे। लेकिन इस केवल भजन संध्या का ही आयोजन कराया गया। साथ ही गंगा जी की भव्य आरती की गई। आरती और दीप प्रज्ज्वलन को देखने के लिए लोगों की भीड़ लगी रही। यहां पर करीब एक लाख दीप जलाए गए। केवल प्रशासन की ओर से 51 हजार दीप जलाए गए। इसके अलावा कई सामाजिक संस्थाओं ने दीप जलाकर मां गंगा का श्रृंगार किया। इस अवसर पर आइजी जोन केपी सिंह, डीएम भानुचंद्र गोस्वामी, एसएसपी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी, एडीएम सिटी अशोक कुमार कनौजिया, मेलाधिकारी विवेक चतुर्वेदी आदि थे। वहीं कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर सुबह से दोपहर तक लोगों ने संगम स्नान किया।

12 धार्मिक चिह्नों की आकर्षक रंगोली

संगम नोज पर शंख, स्वास्तिक, त्रिशूल सहित 12 धाॢमक चिह्नों की रंगोली बनाई गई थी। जो लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र रही। लोग यहां सेल्फी भी लेते रहे। इस बार संगम घाट के अलावा बड़े हनुमान मंदिर और शंकर विमान मंडपम् मंदिर के सामने भी दीपदान किया गया।

इस्कॉन मंदिर में बनाई दीपमाला

कुटुंब संस्था की ओर से बलुआघाट बारादरी पर यमुना आरती और इस्कॉन मंदिर को दीपमाला से सजाया गया। इसमें जूही जायसवाल, गायिका स्वाति निरखी, गुंजन निषाद, इसरावती यादव, अमरेश जायसवाल, रागिनी पाठक, गौरव मिश्रा, हॢषत केसरवानी आदि थे। बलुआघाट पर ही काॢतक महोत्सव आयोजन समिति की ओर से आरती और दीपदान किया गया। इसमें महेंद्र कुमार पांडेय, शशांक शेखर पांडेय, सुरेंद्र सिंह, कृष्णा पांडेय, गोपाल कृष्ण पांडेय, शनि अग्रहरि, कृष अग्रहरि, कृपाशंकर कुशवाहा, त्रिवेणी शंकर, प्रवीण केसरवानी, शिवनाथ, अनिल त्रिपाठी, रामनरेश शर्मा आदि थे।

नागवासुकि बाबा का हुआ श्रृंगार

नागवासुकि बाबा के दरबार में दीप जलाए गए और महाआरती की गई। श्री नागवासुकि गंगा आरती समिति व प्रयागराज सेवा समिति की ओर से पुजारी पं. श्यामधर त्रिपाठी के निर्देशन में पूजन अर्चन व अनुष्ठान हुआ। संगम विश्व धरोहर महाअभियान के संयोजक तीर्थराज पांडेय व सदस्यों ने शहीदों के नाम दीप जलाए गए। कार्यक्रम में पं. धर्मराज पांडेय, अंशुमान त्रिपाठी, श्याम बिहारी मिश्र, मदन गुप्ता, सोनू मिश्रा, रामजी पांडेय, राहुल मिश्र, रवि त्रिपाठी, केसी पांडेय, प्रभुराज पांडेय व अन्य रहे।

रेडक्रास सोसायटी ने भी जलाए दीप

संगम तट पर स्काउट तथा रेडक्रास की ओर से भी दीप जलाए गए, साथ ही संगम से लेकर किलाघाट तक आकर्षक रंगोली बनाई गई। इसके लिए जिला प्रशासन ने संस्था को प्लाट संख्या तीन आवंटित किया गया था। जिला स्काउट मास्टर फिरोज आलम खान ने इससे पहले स्काउट मास्टर-गाइड कैप्टन को सम्मानित किया। इस अवसर पर कोरोना काल में ऑनलाइन आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को प्रमाण पत्र वितरित किए गए। इस मौके पर जिला संयुक्त सचिव राजनारायण शुक्ल, संगठन कमिश्नर वेद प्रकाश, जिला प्रशिक्षण कमिश्नर पीयूष कुमार सिंह ने समाज सेविका दीप्ति योगेश्वर, अनुरागिनी सिंह, गायत्री यादव, शाजिया तस्नीम सहित अन्य को सम्मानित किया।

महावीर मार्ग पर जले 5100 दीये

अखिल भारतीय तीर्थ पुरोहित महासभा की ओर से महावीर मार्ग पर स्थित श्री प्रयाग आरती समिति के आचार्यों के माध्यम से 5100 दीये जलाए गए। महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रामकृष्ण तिवारी के नेतृत्व में मां गंगा जी की भव्य आरती उतारी गई। इसमें भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा की मंत्री अनामिका चौधरी, महानगर अध्यक्ष गणेश केसरवानी, सुभाष पांडेय, मधु चकहा, माधवानंद शर्मा आदि थे।

जलाए 51 हजार दीप

हरिहर गंगा आरती समिति की ओर से रामघाट पर 51 हजार से अधिक दीये जलाए गए। भाजपा महिला मोर्चा की महानगर अध्यक्ष माया द्विवेदी के संयोजन में रंगोली का प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया। कार्यक्रम में अवधेश गुप्ता, हरिहर गंगा आरती समिति अध्यक्ष सुरेश चंद्रा, पवन श्रीवास्तव, संजय गुप्ता, संजय दुबे, प्रमोद पांडेय, लालजी यादव आदि मौजूद रहे। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.