बारिश से नाले और नालियां उफनाने से प्रयागराज के घरों में घुसा पानी, भारी दिक्कत झेल रहे लोग

अल्लापुर में बक्शी बांध पंपिंग स्टेशन में पानी न मिलने के कारण पंप को बंद कराना पड़ा। इसकी वजह से बाघंबरी हाउसिंग स्कीम डंडिया साउथ मलाका के आजाद नगर मुंडेरा गांव हरवारा मोहल्लों के दर्जनों घरों में पानी भर गया। इससे पानी में सामान भीगने से खराब भी हो गए।

Ankur TripathiMon, 02 Aug 2021 07:00 AM (IST)
मोरी गेट खुला रहा, बक्शी बांध पंपिंग स्टेशन के पंप को कराया गया बंद

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। दो दिनों से लगातार होने वाली बारिश से शहर में कई जगह नाले और नालियां उफना गईं। इससे सड़कों-गलियों में जलभराव होने के साथ घरों में भी पानी घुस गया। घरों में पानी भर जाने से गृहस्थी के सामान भी बर्बाद हो गए। जलनिकासी के लिए दारागंज में मोरी गेट खुला रहा। जहां पंप लगे हैं, उसमें से ज्यादातर पंच भी चालू रहे। नगर निगम और जलकल विभाग के अधिकारी भी अपने क्षेत्रों में निरीक्षण करते रहे। जाल की सफाई के लिए कर्मचारी भी लगे रहे।

अफसर करते रहे क्षेत्रों का निरीक्षण, कर्मचारी जाल की सफाई

अल्लापुर में बक्शी बांध पंपिंग स्टेशन में पानी न मिलने के कारण पंप को बंद कराना पड़ा। इसकी वजह से बाघंबरी हाउसिंग स्कीम, डंडिया, साउथ मलाका के आजाद नगर, मुंडेरा गांव, हरवारा मोहल्लों के दर्जनों घरों में पानी भर गया। इससे पानी में सामान भीगने से खराब भी हो गए। टैगोर टाउन में बंशी भवन, एलआइसी कालोनी रोड, बैरहना चौराहा, मधवापुर सब्जी मंडी, निरंजन डाट का पुल के नीचे, स्टेशन रोड, नूरुल्ला रोड पर जलभराव होने से लोगों को परेशानी हुई। आजाद नगर में सीवर लाइन के चोक होने से रविवार भोर में घरों में पानी घुस गया था। मेंहदौरी गैस गोदाम, चिन्मय मिशन से मेंहदौरी गांव जाने वाला नाला जाम होने से जलभराव हो गया था। पार्षद मुकुंद तिवारी के मुताबिक नाले की पुलिया बैठ जाने से जाम हो गया है। अफसरों से कई बार कहने के बावजूद पुलिया नहीं बनी। जार्जटाउन में सीवाई चिंतामणि रोड चौराहा पर लगा पंप शनिवार शाम से ही चल रहा था, जिससे पानी निकलता रहा। परेड मैदान भी लबालब रहा। कीडगंज, कटघर, गऊघाट में लगे पंप भी चलते रहे। नाली ओवरफ्लो होने से अतरसुइया गली में भी पानी भर गया था। बाघंबरी और मटियारा रोड समेत कई जगह नालों में लगे जाल की सफाई सफाईकर्मी करते रहे। जोनल अधिकारी, अधिशासी अभियंता, सहायक अभियंता, अवर अभियंता क्षेत्रों का निरीक्षण करते रहे।

नालों की सफाई की कराई जाए जांच

पूर्व पार्षद शिव सेवक सिंह, पार्षद कमलेश सिंह का कहना है कि जिन क्षेत्रों में नालों की सफाई ठीक से नहीं हुई, वहीं जलभराव की समस्या हुई। नालों की सफाई के लिए पांच करोड़ रुपये का प्रविधान बजट में किया गया था फिर भी नालों की सफाई न होना आश्चर्यजनक है। नालों की सफाई की जांच कराने की मांग नगर आयुक्त रवि रंजन से की।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.