Snake Bite: सांप डसने से महिला समेत दो की मौत, इलाज की बजाय झाड़-फूंक कराते रहे

रोज ही सांप काटने से मौत के मामले सामने आ रहे हैं। कौशांबी में बुधवार रात भी एक महिला समेत दो लोगों को सांप ने डसा और इलाज की बजाय झाड़-फूंक कराने के चक्कर में देर करने से उनकी मौत हो गई।

Ankur TripathiThu, 16 Sep 2021 04:47 PM (IST)
कौशांबी में सांप काटने से कई लोग गंवा चुके जान लेकिन लोग जी रहे अंधविश्वास में

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। बारिश के मौसम में बिल में पानी भरने की वजह से सांप बाहर निकलते हैं और उनके काटने से लोगों की मौत की घटनाएं होने लगती हैं। इस बरसात में भी यही हुआ है। रोज ही सांप काटने से मौत के मामले सामने आ रहे हैं। कौशांबी में बुधवार रात भी एक महिला समेत दो लोगों को सांप ने डसा और इलाज की बजाय झाड़-फूंक कराने के चक्कर में देर करने से उनकी मौत हो गई। महिला की मौत से उसका दुधमुंहा बच्चा बिन मां का हो गया है। परिवार में गम का साया पसरा है।

दीवार से गिरे सांप ने हाथ में डसा

पिपरी थाना क्षेत्र के मेंडवारा गांव निवासी प्यारे लाल ने बेटी रामपति (30) की शादी प्रयागराज में धूमनगंज हरवारा गांव निवासी रामबाबू के साथ की थी। रामबाबू को सालों पहले लकवा मार गया था। तब से वह चलने-फिरने में लाचार है। इस वजह से रामबाबू के साथ उसकी पत्नी रामपति मायका पिपरी के मेंडवारा गांव में माता प्रभावती औऱ पिता प्यारेलाल के घर से कुछ ही दूरी पर एक कमरे का मकान बनाकर रहने लगी थी। रामपति की तीन बेटियां 12 साल की अंशिका, आठ साल की प्रिया और चार साल की मलिका और एक बेटा है जिसका जन्म चार दिन पहले ही हुआ है। रामबाबू के चलने-फिरने में असमर्थ होने की वजह से परिवार का गुजारा करने के लिए रामपति ही मजदूरी कर रही थी। उसकी थोड़ी सी कमाई से ही पति और चार बच्चों के साथ जीवन यापन हो रहा था। बुधवार की रात वह बच्चों के साथ सोई थी। आधी रात कच्चे घर की दीवार से एक सांप रामपति पर गिरा और उसके दाहिने हाथ में डस लिया। वह चीखी तो बच्चे जग गए। आसपास के लोग भी आ गए। रामपति को फौरन इलाज की खातिर ले जाने की बजाय झाड़-फूंक शुरू करा दी गई। झाड़ फूंक के दौरान ही उसकी मौत हो गई है। शव लेकर वापस लौट स्वजनों को कुछ देर बार उसके जीवित होने की आशंका हुई तो उसे प्रयागराज के एसआरएन अस्पताल भेजा गया।

चरवा में लड़के की सांप काटने से मौत

चरवा थाना क्षेत्र के पहाड़पुर सुधवर गांव में बुधवार की रात 14 साल के अंकित की सांप काटने से मौत हो गई। इस गांव के तुलसी उर्फ तुलई की मौत सालों पहले बीमारी से हो गई थी। उसकी पत्नीसावित्री देवी दो बेटों समेत किसी तरह गुजारा कर रही है। बुधवार की रात वह बेटों के साथ कमरे में सो रही थी। रात में सांप ने सावित्री के 14 साल के पुत्र अंकित को काट लिया है। सांप ने डसा तो अंकित चीखने लगा। चीख पुकार सुनकर जुटे मोहल्ले के लोगों की मदद से परिवार के लोग अंकित को इलाके के ही एक गांव में झाड़ फूंक के लिए लेकर पहुंचे। मगर उसकी जान नहीं बची। शव लेकर वापस लौटे लोगों ने पुलिस को खबर दी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.