ध्वस्तीकरण की कार्रवाई से व्यापारी हो जाएगा बर्बाद, प्रयागराज के कारोबारियों में है नाराजगी

कोरोना महामारी संक्रमण के इस कठिन दौर में व्यापार खस्ताहाल है। इस समय तोडफ़ोड़ और ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की गई तो व्यापारी बर्बाद हो जाएगा। तय हुआ कि प्राधिकरण के अधिकारियों से बात करके इस समस्या का हल निकाला जाए।

Ankur TripathiMon, 26 Jul 2021 06:20 AM (IST)
सिविल लाइंस और विश्वविद्यालय मार्ग के चौड़ीकरण के लिए व्यापारियों को जारी ध्वस्तीकरण नोटिस से नाराजगी

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। सिविल लाइंस व्यापार मंडल एवं प्रयाग व्यापार मंडल की रविवार को सिविल लाइंस इलाके में की गई बैठक में सिविल लाइंस क्षेत्र और विश्वविद्यालय मार्ग के चौड़ीकरण के लिए प्रयागराज विकास प्राधिकरण द्वारा व्यापारियों को जारी ध्वस्तीकरण नोटिस मसले पर चर्चा की गई। कहा गया कि कोरोना महामारी संक्रमण के इस कठिन दौर में व्यापार खस्ताहाल है। इस समय तोडफ़ोड़ और ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की गई तो व्यापारी बर्बाद हो जाएगा। तय हुआ कि प्राधिकरण के अधिकारियों से बात करके इस समस्या का हल निकाला जाए। अफसरों से फोन पर वार्ता करने पर सोमवार को दिन में 11.30 बजे पदाधिकारियों के साथ बैठक की सहमति बनी। बैठक की अध्यक्षता सिविल लाइंस व्यापार मंडल के अध्यक्ष सुशील खरबंदा ने की। महामंत्री शिवशंकर सिंह, प्रयाग व्यापार मंडल के अध्यक्ष विजय अरोरा, आशीष अरोरा, इंदर मध्यान्ह, हर्षित अग्रवाल, रितेश सिंह, शेख डाबर वकील, सरदार इंद्रप्रीत सिंह, डा. सुभाष यादव आदि मौजूद रहे। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों कई मसलों पर व्यापार संगठन की तरफ से विरोध जताया गया था। कोरोना संक्रमण फैलने पर दुकानों की बंदी के खिलाफ भी संगठन मुखर रहा जिसके बाद दुकानों को खोलने की अनुमति दी गई थी।

आलोक अध्यक्ष और अनिल सचिव बने

श्री चित्रगुप्त सामाजिक संस्था के वार्षिक चुनाव के संबंध में रविवार को मीरापुर स्थित संस्था कार्यालय में बैठक हुई। इसमें आगामी सत्र के लिए नई कार्यकारिणी का चुनाव किया गया। आलोक निगम सर्वसम्मति से अध्यक्ष, इरफाना सिन्हा एवं नवीन श्रीवास्तव उपाध्यक्ष, अनिल कुमार श्रीवास्तव सचिव, विजय श्रीवास्तव उप सचिव, अखिलेश श्रीवास्तव कोषाध्यक्ष, संजीव सक्सेना आडिटर, सुमित श्रीवास्तव प्रकाशन मंत्री के अलावा कार्यकारिणी सदस्य नवीन सिन्हा, अमित श्रीवास्तव 'रिन्कूअमरनाथ श्रीवास्तव, कमलेश कुमार श्रीवास्तव, कौशलेंद्र श्रीवास्तव, नूपूर श्रीवास्तव, अनुभव श्रीवास्तव चुने गए। संरक्षक डा. सुशील सिन्हा की उपस्थित में पीसी वर्मा, हरीश चन्द खरे एवं सत्येंद्र नाथ श्रीवास्तव को संरक्षक नियुक्त किया गया। चुनाव अधिकारी हरीश चंद खरे रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.