प्रतापगढ़ में पुलिस-बदमाशों में मुठभेड़, कंधई थाने के टाप-10 बदमाश को गोली लगी, दो फरार

सीओ रानीगंज अतुल अंजान त्रिपाठी के अनुसार 25 जुलाई को रानीगंज थाने के संडौरा में दो लोगों को गोली मारने के मामले में अतहर वांछित चल रहा था। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने रानीगंज थाना इलाके के बुढौरा मोड़ के पास बुधवार की रात करीब दो बजे घेराबंदी की।

Brijesh SrivastavaThu, 05 Aug 2021 08:27 AM (IST)
अपने को घिरा देख बदमाशों ने पुलिस पर गोली चलाई। जवाबी फायरिंग में एक बदमाश को गोली लगी।

प्रयागराज, जेएनएन। यूपी के प्रतापगढ़ जनपद में पुलिस और बदमाशों में मुठभेड़ हो गई। बुधवार की देर रात हुई मुठभेड़ के दौरान कंधई थाने के टाप-10 में शामिल बदमाश 27 वर्षीय मोहम्मद अतहर पुत्र नसीम जख्‍मी हो गया। उसके पैर में गोली लगी है। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। हालांक‍ि इस मुठभेड़ में उसके दो साथी भागने में कामयाब रहे।

सीओ रानीगंज बोले- दो लोगों को गोली मारने का आरोपित है

सीओ रानीगंज अतुल अंजान त्रिपाठी के अनुसार 25 जुलाई को रानीगंज थाने के संडौरा में दो लोगों को गोली मारने के मामले में अतहर वांछित चल रहा था। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने रानीगंज थाना इलाके के बुढौरा मोड़ के पास बुधवार की रात करीब दो बजे घेराबंदी की। पुलिस से घिरा देख बदमाश फायरिंग करते हुए भागने लगे। पुलिस की जवाबी फायरिंग में बदमाश अतहर को गोली लगी। उसके दो साथी अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गए। उसे गिरफ्तार करके मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया। पुलिस फरार बदमाशों को पकड़ने के लिए दबिश दे रही है।

फरवरी में तीन इनामी बदमाश पकड़े गए थे

फरवरी माह में प्रतापगढ़ के नगर कोतवाली इलाके गोड़े गांव में पुलिस ने घेराबंदी कर बदमाशों को पकड़ने का प्रयास किया था। पुलिस पर फायर कर बदमाश भागने लगे। जवाबी फायरिंग में तीन इनामी बदमाशों के पैर में गोली लगी थी। इस मुठभेड़ में पुलिस ने पांच बदमाशों को पकड़ा था। वह किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे। जिन्‍हें गोली लगी वे इनामिया बदमाश थे। इनमें 25 हजार रुपये का इनामी बदमाश अभिषेक सरोव और हैदर निवासी को‍हडौर के साथ ही रानीगंज का रहने वाला हलीम था, जिन्‍हें पैर में गोली लगी थी। इन तीनों के अलावा पुलिस ने संजय सोनी और इरशाद उर्फ गुड्डू को भी पकड़ा था। पुलिस ने इन बदमाशों के पास से जेवरात भी बरामद किया था। ये वही जेवरात थे जो श्‍याम बिहारी गली में हुई डकैती में लूटे गए थे।

जनवरी में बदमाशों के साथ सिपाही हुआ था जख्‍मी

इसी प्रकार जनवरी माह में भी पुलिस और बदमाशों में मुठभेड़ हुई थी। यहां भी अपने को घिरा देख बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग की थी। पुलिस ने जवाबी फायरिंग की तो तीन बदमाशों को गोली लगी थी। इस मुठभेड़ में एक पुलिस सिपाही कृष्‍णकांत भी जख्‍मी हो गया था। पुलिस के अनुसार मुठभेड़ में पकड़े गए बदमाशों के तार सराफा व्‍यवसायी से 90 लाख की डकैती से जुड़े थे। पुलिस के अनुसार प्रतापगढ़ शहर के श्‍याम बिहारी गली में रहने वाले सुरेश सोनी की दुकान में सात जनवरी को बदमाशाें ने डाका डाला था। इसमें 90 लाख रुपये के जेवर, 10 हजार रुपये नकद और मोबाइल लूटे थे। दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में पांच असलहाधारी बदमाश कैद हुए थे। जो तीन बदमाश पुलिस की गोली से जख्‍मी हुए थे, उनमें पुनीत सोनी निवासी अंतपुर थाना मानधाता और शुभम जायसवाल निवासी कोहरौड के साथ फहीम सिद्दीकी निवासी नैनी प्रयागराज थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.