शादी समारोह से बेटे संग लौट रहे थे दंपती, प्रयागराज में ट्रक की टक्कर से स्कूटी सवार पिता-पुत्र की मौत

राजेश श्रीवास्तव ने रविवार देर शाम पत्नी रेखा और नौ वर्षीय पुत्र विभोर के साथ शादी समारोह में शामिल होने के लिए शहर गए थे। देर रात वह स्कूटी पर पत्नी और बेटे के साथ घर लौट रहे थे। वे नए पुल को पारकर आगे बढ़े तभी अनहोनी हो गई।

Ankur TripathiMon, 21 Jun 2021 12:23 AM (IST)
लेप्रोसी मिशन चौराहे पर रविवार देर रात ट्रक की टक्कर से पिता राजेश और पुत्र विभोर की मौत हो गई।

प्रयागराज, जेएनएन। कुछ देर पहले तक वे शादी समारोह में खुशियों भरे पलों का आनंद ले रहे थे, फिर घर को चले तो रास्ते में मौत ने झपट्टा मार दिया। यह घटना प्रयागराज में नैनी इलाके की है जहां लेप्रोसी मिशन चौराहे पर रविवार देर रात ट्रक की टक्कर से पिता राजेश और पुत्र विभोर की मौत हो गई। राजेश की पत्नी को गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया। उधर, टक्कर मारने के बाद चालक ट्रक लेकर वहां से आगे बढ़ गया।

शहर से रवाना हुए थे नैनी, यमदूत बनकर आया ट्रक

नैनी इलाके में पीडीए कालोनी निवासी 37 साल के राजेश श्रीवास्तव ने अपने घर के निकट कास्मेटिक शाप खोल रखी थी। रविवार देर शाम वह पत्नी रेखा (32) और नौ वर्षीय पुत्र विभोर के साथ एक शादी समारोह में शामिल होने के लिए शहर गए थे। देर रात तकरीबन सवा ग्यारह बजे वह स्कूटी पर पत्नी और बेटे के साथ घर लौट रहे थे। वे नए पुल को पारकर आगे बढ़े तभी अनहोनी हो गई। उनकी स्कूटी में लेप्रोसी मिशन चौराहे के पास पीछे से आए ट्रक ने टक्कर मार दी। सड़क पर गिरे राजेश और विभोर को रौंदते हुए ट्रक आगे निकल गया। राहगीर और पुलिसकर्मी वहां पहुंच गए। पिता-पुत्र की सांस थम चुकी थी। राजेश की पत्नी रेखा गंभीर रूप से घायल हो गई थीं। पुलिस ने रेखा को एसआरएन अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस का कहना है कि टक्कर मारने के बाद चालक ट्रक लेकर भाग गया था। चौराहे पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगालकर ट्रक के बारे में पता लगाया जा रहा है। राहगीरों ने पुलिस को बताया कि स्कूटी सवार नैनी की तरफ जा रहे थे। पीछे से कई ट्रक तेज गति से आ रहे थे। लेप्रोसी मिशन चौराहे के पास अचानक स्कूटी सवार लोग सड़क किनारे बने डिवाइडर से टकराने के बाद सड़क पर गिर गए। उसी दौरान आए ट्रक ने परिवार को चपेट में ले लिया।

परिवार में खबर पहुंची तो मच गया हाहाकार

दंपती अपने बेटे के साथ शादी में गए थे। यानी खुशी में शरीक होेने। मगर घर वापसी के दौरान अनहोनी ने परिवार और रिश्ते में हाहाकार मचा दिया। खबर मिली तो परिवार के अन्य लोग और रिश्तेदार अस्पताल पहुंच गए। पिता-पुत्र की मौत ने सबको गहरा सदमा दिया। रेखा की भी हालत गंभीर होने से स्वजन चिंता में डूबे हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.