...ये है प्रयागराज की बादशाही मंडी, यहां खोदकर छोड़ दी गई सड़क, बारिश से लोगाें का चलना हुआ मुश्किल

पार्षद नेम यादव का कहना है कि ज्यादातर मलबा और मिट्टी हट गई है। गीली होने के कारण थोड़ी मिट्टी रह गई है लेकिन रास्ता आने-जाने के लिए साफ करा दिया गया है। खुसरोबाग से पानी स्वरूपरानी पार्क में आकर स्टोर होता है। फिर मोहल्लों में सप्लाई होती है।

Brijesh SrivastavaFri, 18 Jun 2021 01:43 PM (IST)
बादशाही मंडी में खोदने के बाद सड़क पर मलवा, मिट्टी फैली है। आवागमन में लोगों को दिक्‍कत हो रही है।

प्रयागराज, जेएनएन। प्रयागराज शहर में जानसेनगंज और हीवेट रोड बाजार से सटे मोहल्ले बादशाही मंडी में समस्‍याएं अधिक हैं। यहां सड़कें खोदकर संबंधित विभाग ने छोड़ दी है। सड़क पर ही मिट्टी और मलबा पड़ा होने से लोगों को आने-जाने में असुविधा हो रही है। फिसलन के कारण चलना भी दूभर है। समय से कूड़ा न उठने से गलियां बजबजाती रहती हैं। घरों में प्रदूषित जलापूर्ति से भी परेशानी है। शिकायत तो होती है लेकिन नगर निगम के अधिकारी ध्‍यान नहीं दे रहे हैं।

नलकूप की बोरिंग के लिए खोदी गई है सड़क

बादशाही मंडी में जलकल विभाग द्वारा हाल में नलकूप की बोरिंग की गई, जिसके लिए सड़क खोद दी गई। बोरिंग का काम होने के बाद सड़क भी नहीं बनाई गई। मिट्टी और मलबा भी छोड़ दिया गया। हल्‍की बारिश से सड़क पर कीचड़ हो गया है, जिससे लोगों का चलना मुश्किल हो गया है। नालियों की सफाई न होने से बजबजाती रहती है। कूड़ा नियमित न उठने से गलियों में ढेर लगा रहता है। बदबू के कारण लोगों का जीना मुहाल रहता है। जहां पुरानी पाइप लाइनें पड़ी हैं, वहां सुबह-शाम शुरुआत में करीब एक घंटे प्रदूषित पानी की आपूर्ति होती है।

पार्षद ने कहा- नगर निगम ने दिया है आश्‍वासन

पार्षद नेम यादव का कहना है कि ज्यादातर मलबा और मिट्टी हट गई है। गीली होने के कारण थोड़ी मिट्टी रह गई है लेकिन, रास्ता आने-जाने के लिए साफ करा दिया गया है। खुसरोबाग से पानी स्वरूपरानी पार्क में आकर स्टोर होता है। फिर मोहल्लों में सप्लाई होती है। वहां से पानी आने के कारण उसका रंग पीला रहता है मगर, ब्लीचिंग पाउडर से सफाई होने के बाद उसमें किसी तरह की दिक्कत नहीं रहती है। दो नए नलकूप लग गए हैं। एक नलकूप और लगना है। नलकूपों से आपूर्ति होने पर पानी साफ आने लगेगा। छह-सात दिनों से कई सफाई कर्मियों के छुट्टी पर होने से सफाई की समस्या हो रही है। कूड़ा उठाने के लिए पहले तीन गाडिय़ों मिली थी पर निगम ने दो गाडि़याें को लेकर डोर-टू-डोर कूड़ा वाली एजेंसी को दे दिया। इससे कूड़ा उठने में भी परेशानी है। हालांकि, दो गाडि़यां देने का आश्वासन निगम ने दिया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.