राशन कार्ड धारकों को माह में दो बार मिलेगा मुफ्त में राशन, प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण योजना का लाभ लें

वितरित किए जाने वाले नियमित राशन के साथ प्रति कार्ड धारक को एक किलो चना एक किलो नमक और एक किलो रिफाइंड भी मुफ्त में मिलेगा। जिला आपूर्ति अधिकारी आनंद सिंह ने बताया कि दोनों योजनाओं के तहत मुफ्त में राशन वितरण के लिए शासनादेश आ चुका है।

Brijesh SrivastavaPublish:Wed, 01 Dec 2021 02:45 PM (IST) Updated:Wed, 01 Dec 2021 02:45 PM (IST)
राशन कार्ड धारकों को माह में दो बार मिलेगा मुफ्त में राशन, प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण योजना का लाभ लें
राशन कार्ड धारकों को माह में दो बार मिलेगा मुफ्त में राशन, प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण योजना का लाभ लें

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। राशन कार्ड धारकों के लिए यह अच्‍छी खबर है। सरकारी राशन की दुकानों पर सभी राशन कार्ड धारकों को महीने में दो बार मुफ्त में राशन मिलेगा। कोराना काल में शुरू की गई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को मार्च तक बढ़ा दिया गया है। नियमित वितरित होने वाले राशन के चंद दिनों बाद प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्य योजना का राशन भी वितरित किया जाएगा। प्रति यूनिट पांच किलो राशन मिलता है।

ये हैं प्रयागराज के आंकड़े

राशन कार्डधारकों की संख्या- 10.54 लाख,

सरकारी राशन की दुकान- 2199

कार्ड धारकाें को चना, नमक व रिफाइंड भी निश्‍शुल्‍क मिलेगा

दस दिसंबर से वितरित किए जाने वाले नियमित राशन के साथ प्रति कार्ड धारक को एक किलो चना, एक किलो नमक और एक किलो रिफाइंड मुफ्त मिलेगा। जिला आपूर्ति अधिकारी आनंद सिंह ने बताया कि दोनों योजनाओं के तहत मुफ्त में राशन वितरण के लिए शासनादेश आ चुका है।

पैकेट पर पीएम और सीएम की रहेगी फोटो

राशन के साथ जो रिफाइंड, नमक और चना दिया जाएगा, उस पैकेट के ऊपर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्‍तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फोटो रहेगी। अलग-अलग तीन रंग के पैकेट में यह खाद्य सामग्री रहेगी।

गरीबों के लिए 24 घंटे चलेगा अन्न क्षेत्र

आर्थिक तंगी के कारण कोई व्यक्ति भूखा न रहे, इसके लिए ओम नम: शिवाय संस्थान की ओर से 24 घंटे का अन्न क्षेत्र शुरू किया गया है। बलुआघाट स्थित आश्रम में पीठाधीश्वर प्रभुजी ने प्रसाद बनाकर उसका शुभारंभ किया। अन्न क्षेत्र प्रयागराज के अलग-अलग क्षेत्रों में प्रतिदिन चलेगा। इसके अलावा अयोध्या, कानपुर व लखनऊ में भी 24 घंटे गरीबों को निश्शुल्क भोजन वितरित किया जाएगा। प्रभुजी ने बताया कि संस्थान की ओर से माघ मेला, अर्धकुंभ व कुंभ मेला में 40 वर्षों से दो दर्जन स्थानों पर विशाल अन्न क्षेत्र चलाया जा रहा है। इसमें माह भर में लाखों लोग प्रसाद ग्रहण करते हैं। अब उसे 24 घंटे चलाने का निर्णय लिया गया है। कहा कि हर व्यक्ति भरपेट भोजन करेगा तभी देश की उन्नति में योगदान देने में सक्षम होगा। आज देश में बड़ी संख्या में लोग खाने के लिए परेशान है। काफी लोगों को भूखे सोना पड़ता है। यह व्यवस्था बदलने के लिए आश्रम ने मदद का हाथ आगे बढ़ाया है।