Prayagraj Weather Update: मौसम विभाग का अनुमान, उमड़-घुमड़ रहे बादल कभी भी बरस सकते हैं

Prayagraj Weather Update बंगाल की खाड़ी में बने कम वायु के प्रभाव से प्रयागराज के मौसम का मिजाज बदला हुआ है। सुबह से तेज धूप निकल रही है मगर दोपहर से लेकर शाम तक रह-रहकर बादल आ जा रहे हैं। इससे उसम में बढ़ोतरी हो जा रही है।

Brijesh SrivastavaTue, 21 Sep 2021 03:38 PM (IST)
प्रयागराज में उमस बढ़ गई है लेकिन मौसम विभाग ने बारिश की भी उम्‍मीद जताई है।

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। प्रयागराज में मौसम में तल्‍खी एक बार फिर तेज है। सूरज जहां अपनी ताकत दिखाने में लगा है, वहीं बादल भी कहीं से पिछले के मूड में नहीं हैं। चाहे जैसे भी धूप निकल जाए, कुछ देर तो बादल बाजी मार ही लेते हैं। ऐसा ही सिलसिला दो दिन से चल रहा है। बादल उमड़-घुमड़ रहेंगे, लेकिन बरस नहीं रहे हैं। मौसम विभाग के अनुसार आज बारिश की संभावना जताई है। हालांकि अभी तक तो बारिश के आसार नहीं नजर आ रहे। वहीं बादिल अचानक से आ सकते हैं।

बंगाल की खाड़ी के कम वायु का प्रयागराज में असर

बंगाल की खाड़ी में बने कम वायु के प्रभाव से प्रयागराज के मौसम का मिजाज बदला हुआ है। सुबह से तेज धूप निकल रही है, मगर दोपहर से लेकर शाम तक रह-रहकर बादल आ जा रहे हैं। इससे उसम में बढ़ोतरी हो जा रही है। हालांकि रविवार को दोपहर में ऐसे ही मौसम के बीच हल्की बारिश हुई थी लेकिन लोगों को उससे कोई राहत नहीं मिली। उमस जरूर बढ़ गई थी। सोमवार को भी पूरा दिन उमस भरा गया है। कई बार लगा कि हो सकता है कि बादल आए गए हैं तो बारिश हो जाए, मगर ऐसा हुआ नहीं। आज भी यही हाल है।

तापमान में बढ़ोतरी हुई है

तीन दिन के तापमान के आंकड़ों पर नजर डालें तो अधिकतम तापमान लगातार बढ़ रहा है। मंगलवार को अधिकतम तापमान 36.4 डिग्री सेल्सियस व न्‍यूनतम तापमान 26.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। शनिवार को दिन का अधिकतम तापमान 34.2 डिग्री सेल्सियस था, जो रविवार को बढ़कर 34.4 डिग्री हो गया था। सोमवार को इसमें इजाफा हुआ है। यह और बढ़कर 34.4 डिग्री पर पहुंच गया। इसी तरफ न्यूनतम तापमान ऊपर नीचे हो रहा है। शनिवार को न्यूनतम तापमान 25.7 डिग्री था। रविवार को बढ़कर यह 27.1 डिग्री पर पहुंच गया। सोमवार को फिर नीचे आया। 26.7 डिग्री तापमान दर्ज किया गया।

उमस से लोग परेशान

न्यूनतम तापमान में उतार-चढ़ाव और अधिकतम में बढ़ोतरी से लोग परेशान हो रहे हैं। उमस के कारण दिनभर बेहाल रहते हैं। बच्चे स्कूल पढ़ने के लिए जाते हैं तो उन्हें भी दिक्कत होती है। ऐसे मौसम में थोड़ी सी आसावधानी से तबीयत तुरंत खराब होती है। लोगों को स्वस्थ्य होने में दो से चार दिन तो चाहिए ही। वैसे भी इस समय अस्पतालों में ओपीडी की संख्या बढ़ी हुई है।

मौसम विज्ञानी ने बारिश की संभावना जताई

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी डा. शैलेंद्र राय का कहना है कि 21 सितंबर तक बारिश होने की पूरी संभावना है। कब मौसम अचानक बदल जाएगा कि इसमें बारे में कोई भी अनुमान नहीं लगाया जा सकता है। इतना तय है कि अगर तापमान 35 डिग्री के आसपास बना रहेगा तो बारिश होने की पूरी संभावना रहती है। ऐसा हो सकता है कि तेज बारिश न हो। हल्की बारिश से ही काम हो जाए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.