Prayagraj Magh Mela 2022: कोरोना के नए वैरियंट को लेकर माघ मेला आयाेजन में बरती जा रही सतर्कता

Prayagraj Magh Mela 2022 जिलाधिकारी बोले कि कोविड के नए वैरियंट के उभरने को लेकर सतर्क हैं। माघ मेले की तैयारियां चल रही हैं तो एहतियात भी बरती जा रही है। टीम टेस्टिंग के लिए रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट पर मुस्‍तैद है।

Brijesh SrivastavaWed, 08 Dec 2021 10:02 AM (IST)
माघ मेला की तैयारियों के साथ ही कोरोना के नए वैरियंट को लेकर सतर्कता भी बरती जा रही है।

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। प्रयागराज में गंगा, यमुना और अदृश्‍य सरस्‍वती के पावन संगम तट पर माघ मेला बसाने की तैयारी तेजी से हो रही है। प्रतिवर्ष लगने वाला माघ मेला जनवरी 2022 से शुरू होगा। माघ मेला की तैयारियों में बिजली विभाग, लोक निर्माण विभाग समेत कई सरकारी विभाग जुटे हैं। हालांकि कोरोना वायरस के नए वैरियंट ओमिक्रोन को लेकर सतर्कता भी बरती जा रही है। ऐसा इसलिए कि माघ मेला में देश भर से श्रत्रालु और पर्यटक यहां पहुंचेंगे। जुटने वाली भीड़ में सभी को कोरोना से बचाना भी किसी चुनौती से कम नहीं होगी। वैसे प्रयागराज प्रशासन ने इस ओर रणनीति बना रहा है।

जिलाधिकारी बोले- कोविड के नए वैरियंट को लेकर हम सतर्क हैं

प्रयागराज के जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री का कहना है कि कोविड के नए वैरियंट के उभरने को लेकर सतर्कता बरती जा रही है। ऐसे में जब माघ मेले की तैयारियां चल रही हैं तो एहतियात भी बरती जा रही है। उन्‍होंने बताया कि हमने अपनी टीम को टेस्टिंग के लिए रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट पर मुस्‍तैद कर रखा है। माघ मेला मैदान में भी टेस्टिंग कैंप लगाने की उन्‍हाेंने बात कही।

माघ मेले के दौरान रेलवे ब्रिज निर्माण रोकने के निर्देश

गंगा पर बनाए जा रहे टू लेन रेलवे ब्रिज का निर्माण माघ मेला तक रोकने को कहा गया है। रेलवे और मेला प्रशासन की संयुक्त टीम की जांच के बाद मेला अधिकारी ने यह निर्देश दिया है। हालांकि रेलवे के अधिकारी इससे सहमत नहीं है। उन्होंने कहा कि करीब दो महीने तक पुल निर्माण ठप रहा तो प्रोजेक्ट लंबित होगा।

पुल निर्माण से मेला की प्रभावित हो रही जमीन

प्रयागराज से वाराणसी को जोडऩे के लिए गंगा पर रेलवे का टू लेन ब्रिज बनाया जा रहा है। रेल विकास निगम लिमिटेड (आरवीएनएल) इसका निर्माण करवा रहा है। बाढ़ के दिनों में इसका काम बंद था। बाढ़ का पानी कम होने के बाद आरवीएनएल की टीम ने काम शुरू किया। अब दिन रात काम चल रहा है। मेला क्षेत्र में सेक्टर चार और पांच में होकर यह पुल गुजर रहा है। पुल निर्माण होने से मेला की जमीन भी प्रभावित हो रही है। इसे देखते हुए सोमवार को मेला प्रशासन और रेलवे के अफसरों की टीम ने संयुक्त निरीक्षण किया था।

काम रुका ताे वापस लौट जाएंगे श्रमिक

मेले के दौरान निर्माण के चलते कोई हादसा न हो, इसलिए मेला प्रशासन ने कुछ दिनों के लिए काम रोकने को कहा। वहीं आरवीएनएल के अफसर ने कहा कि काम रोकने के लिए उन्हें रेल मंत्रालय से अनुमति लेनी पड़ेगी। हादसा से बचाव के लिए वह यहां पर टीन घेरा लगाकर काम कराते रहेंगे। अगर काम रुका तो श्रमिक वापस चले जाएंगे और फिर प्रोजेक्ट लंबित होगा। चूंकि मेला के दौरान प्रशासन कोई रिस्क नहीं लेना चाहता। इसलिए उस दौरान मेला अधिकारी ने काम रोकने को निर्देश दिया है।

अभिनेता आशुतोष राणा, राजपाल यादव माघ मेला में आएंगे

जनकल्याण की संकल्पना को साकार करने के लिए माघ मेला में पार्थिव शिवलिंग का निर्माण किया जाएगा। दद्दा शिष्य धाम शिविर इस बार शिवलिंग निर्माण की संख्या तय नहीं की गई है, वो असंख्य होंगे। ब्रह्मलीन पं. देवप्रभाकर शास्त्री दद्दा जी की स्मृति में अनिल शास्त्री के नेतृत्व में शिवलिंग का निर्माण किया जाएगा। इसमें अभिनेता आशुतोष राणा, राजपाल यादव सहित सैकड़ों भक्त शामिल रहेंगे। इसके मद्देनजर संतोष शुक्ला, योगेश यादव, बबलू यादव, दीपक, अठई राम यादव, बाबी गिरि, शनि केसरी ने बैठक करके मेला क्षेत्र में लगने वाले पंडाल व शिवलिंग की तैयारियों की समीक्षा किया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.