Prayagraj Coronavirus Vaccination: 45 से ऊपर वालों का तत्‍काल रजिस्‍ट्रेशन कर लगाएं वैक्‍सीन, मेडिकल कॉलेज में वैक्‍सीनेशन सेंटर पर पहुंचे डीएम

सीएमओ और मेडिकल कालेज के प्राचार्य को निर्देशित किया कि वैक्सीनेशन सेंटर पर आने वाले लोगों के बैठने एवं पेयजल के लिए पर्याप्त इंतजाम किए जाएं। इस अवसर पर मेडिकल कालेज के प्राचार्य डॉ. एसपी सिंह सीएमओ डा. प्रभाकर राय समेत अन्य स्टाफ मौजूद रहे।

Rajneesh MishraMon, 14 Jun 2021 09:10 PM (IST)
मोतीलाल नेहरू मेडिकल कालेज में कोरोना रोधी टीका लगवाते लभार्थी।।

प्रयागराज,जेएनएन। डीएम संजय कुमार खत्री ने सोमवार को मेडिकल कालेज पहुंचकर वैक्सीनेशन सेंटर का जायजा लिया। उन्होंने अधिकारियों को वैक्सीनेशन के लिए जनजागरूकता को और प्रभावी ढंग से कराने का निर्देश दिया। साथ ही कहा कि वहां पर बैठने और पानी का बेहतर इंतजाम किया जाय।

व्यवस्थाएं दुरस्त करने के दिए निर्देश

उन्होंने कहा कि 45 वर्ष के ऊपर वाले जिन लोगों ने रजिस्टे्रशन नहीं कराया है, उनको लौटाया नहीं जाया। उनका मौके पर ही रजिस्ट्रेशन करके वैक्सीन लगाना है। इस दौरान अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाकर उनको कोरोना से बचाना है।

वैक्सीन लगवाने के लिए अधिक से अधिक महिलाओं को करें प्रेरित

मेडिकल कालेज में बने महिला वैक्सीनेशन सेंटर का भी निरीक्षण किया। कहा कि महिलाओं को भी वैक्सीनेशन के लिए अधिक से अधिक जागरूक कराए जाने की जरूरत है। सीएमओ और मेडिकल कालेज के प्राचार्य को निर्देशित किया कि वैक्सीनेशन सेंटर पर आने वाले लोगों के बैठने एवं पेयजल के लिए पर्याप्त इंतजाम किए जाएं। इस अवसर पर मेडिकल कालेज के प्राचार्य डॉ. एसपी सिंह, सीएमओ डा. प्रभाकर राय समेत अन्य स्टाफ मौजूद रहे।

बाघम्बरी गद्दी में कोरोना से मुक्ति को महामृत्युंजय जप

 राष्ट्र को कोरोना से मुक्ति दिलाने, समस्त कोरोना संक्रमित मृत आत्मा की शांति, सैनिकों का आत्मबल बढ़ाने, नारी उत्थान की संकल्पना को साकार करने के लिए मठ बाघम्बरी गद्दी में महामृत्युंजय जप हुआ। जेठ मास की अमावस्या तिथि पर गुरुवार को शुरू हुए जप का सोमवार को समापन हो गया। आचार्य श्रीकृष्ण तिवारी के नेतृत्व में श्रीविचारानंद संस्कृत महाविद्यालय के वेदपाठी ब्राह्मणों ने लगातार जप किया। जप के समापन पर मठ में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि के नेतृत्व में यज्ञ हुआ। महंत नरेंद्र गिरि ने कहा कि कोरोना की भयावह स्थिति को खत्म करने के लिए नियमित यज्ञ व जप किया गया। यह उसी का प्रभाव है कि कोरोना की दूसरी लहर जल्द खत्म हो गई। भविष्य में कोरोना विकराल रूप धारण न करे उसकी भगवान भोलेनाथ से कामना की गई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.