Prayagraj Coronavirus News : संक्रमण से अब तक परिषदीय और माध्यमिक स्कूलों के 54 शिक्षकों की हो चुकी है मौत

परिषदीय और माध्यमिक विद्यालयों के कुल 54 शिक्षक अब तक काल के गाल में समा चुके हैं।

Prayagraj Coronavirus News अब तक परिषदीय स्कूलों के 40 अध्यापक कोरोना से जंग हार चुके हैं। इसी क्रम में शिक्षक विधायक सुरेश त्रिपाठी के प्रतिनिधि अनुज पांडेय ने कहा कि माध्यमिक स्कूलों के 14 शिक्षकों की अब तक संक्रमण से जान जा चुकी है।

Rajneesh MishraTue, 11 May 2021 12:01 PM (IST)

प्रयागराज,जेएनएन। कोरोना से जान गंवाने वाले शिक्षकों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। परिषदीय और माध्यमिक विद्यालयों के कुल 54 शिक्षक अब तक काल के गाल में समा चुके हैं। इनमें से अधिकांश पंचायत चुनाव की ड्यूटी के बाद संक्रमण की जद में आए थे। अब भी कई अध्यापक संक्रमित हैं। कुछ का अस्पतालों में इलाज चल रहा है तो कुछ होम आइसोलेशन में हैं।

प्राथमिक शिक्षक प्रशिक्षित स्नातक एसोसिएशन के प्रांतीय उपाध्यक्ष अजय सिंह ने बताया कि अब तक परिषदीय स्कूलों के 40 अध्यापक कोरोना से जंग हार चुके हैं। इसी क्रम में शिक्षक विधायक सुरेश त्रिपाठी के प्रतिनिधि अनुज पांडेय ने कहा कि माध्यमिक स्कूलों के 14 शिक्षकों की अब तक संक्रमण से जान जा चुकी है। पीडि़त परिवारों को मदद के लिए अब तक शासन से कोई कदम नहीं उठाया गया है। यह चिंता का विषय है। सभी शिक्षक अपनी ड्यूटी मेहनत से कर रहे हैं फिर भी शासन स्तर से उपेक्षा होने पर दुख होता है। उधर अटेवा पेंशन बचाओ मंच ने ऑनलाइन बैठक कर कोरोना से जान गंवाने वाले शिक्षकों को श्रद्धांजलि दी। इस दौरान अशोक कनौजिया, कमल सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ. हरि प्रकाश यादव, उपेंद्र वर्मा, सुधीर गुप्ता आदि मौजद रहे।

इविवि के छह, संबद्ध कॉलेज के तीन शिक्षक हुए काल कवलित

कोरोना की दूसरी लहर इलाहाबाद विश्वविद्यालय और उससे संबद्ध कालेजों के साथ ही एमएनएनआईटी के लिए भी बहुत घातक सिद्ध हुई है। अब तक इलाहाबाद विश्वविद्यालय के संगीत विभाग की प्रो. रश्मि, जेके इंस्टीट्यूट के प्रो. राजीव सिंह, पूर्व कुलपति प्रो. आरपी मिश्र, पूर्व रजिस्ट्रार प्रो. आरके द्विवेदी, इलाहाबाद विश्वविद्यालय के विधि संकाय के पूर्व डीन प्रो. कैलाश राय की मौत कोरोना से चुकी है। प्रो. राय 2009 में सेवानिवृत्त हुए थे। वह मूलरूप से गाजीपुर के रेवतीपुर गांव के रहने वाले थे। उनकी 25 पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं। इसी क्रम में इलाहाबाद विश्वविद्यालय के बॉटनी विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष प्रो. जीके श्रीवास्तव भी कोरोना से जंग हार गए। वह उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग में सदस्य एवं नासी के फेलोशिप रहे। वर्ष 2000 में सेवानिवृत्त हुए थे। वहीं जेके इंस्टीट्यूट के कार्यालय सहायक दिनेश चंद्र सिंह और कर्मचारी खुदराम की भी मौत कोरोना संक्रमण के चलते हुई। विश्वविद्यालय से संबद्ध कॉलेज सीएमपी डिग्री कॉलेज के रसायन विज्ञान विभाग की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. रोली श्रीवास्तव, इसी विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. अभिषेक, इसी कॉलेज के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. अमित तिवारी भी कोरोना से जंग हार गए। वहीं, एमएनएनआईटी के गणित विभाग के प्रो. मनोज कुमार को भी कोरोना ने अपना शिकार बना लिया है। इसी संस्थान के दो कर्मचारी दीपक और शंकर को भी कोरोना निगल चुका है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.