ट्विटर पर वायरल हुई प्रयागराज जंक्शन पर लाइन शाह बाबा दरगाह की फोटो, ट्वीट में उठी यह मांग

लाइन शाह बाबा दरगाह को लेकर ट्विटर पर किए पोस्ट को मात्र एक घंटे में ढाई हजार लोगों ने लाइक और एक हजार से अधिक लोगों ने रीट्वीट किया है। इसमें कई लोगों ने इसकी शिकायत करने और दरगाह हटाने के लिए रेलवे से संपर्क करने का को कहा है।

Brijesh SrivastavaPublish:Mon, 06 Dec 2021 01:09 PM (IST) Updated:Mon, 06 Dec 2021 01:09 PM (IST)
ट्विटर पर वायरल हुई प्रयागराज जंक्शन पर लाइन शाह बाबा दरगाह की फोटो, ट्वीट में उठी यह मांग
ट्विटर पर वायरल हुई प्रयागराज जंक्शन पर लाइन शाह बाबा दरगाह की फोटो, ट्वीट में उठी यह मांग

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। प्रयागराज रेलवे जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर एक पर बने लाइन शाह बाबा दरगाह की फोटो और कुछ तथ्य अचानक इंटरनेट मीडिया पर ट्रेंड हो रहा है। ट्वीटर पर सोमवार को एक पोस्ट हुई। इसमें इस दरगाह को 1990 के दशक के बाद बनाई गई संरचना होने का दावा गया किया गया है। इसमें आगे कहा गया कि यह हाल ही में बनाया गया अवैध निर्माण है। रेलवे रिकार्ड में इस दरगाह के होने और किसी भी पुरानी फोटो का कोई रिकार्ड नहीं है।

वारयल हो रही पोस्ट

लाइन शाह बाबा दरगाह को लेकर ट्विटर पर सोमवार को 9:41 बजे किए पोस्ट को मात्र एक घंटे में ढाई हजार से अधिक लोगों ने लाइक और एक हजार से अधिक लोगों ने रीट्वीट किया है। इसमें कई लोगों ने इसकी शिकायत करने और दरगाह हटाने के लिए रेलवे से संपर्क करने का को कहा है। इंडियन नाम के एक यूजर ने लिखा है आप वर्तमान के अतीत को दोष देना बंद करें और इसकी शिकायत करें।

दर्जनों अन्य स्थानों का मामला भी उठा

ट्विटर पर इस पोस्ट के बाद कई यूजरों ने जगह जगह पर इस तरह के धार्मिक स्थलों की फोटो और जानकारियां अपडेट की हैं। प्रयागराज से लेकर बैंग्लोर, नेल्लौर, दिल्ली तक की फोटो भेजी गई है। कई लोगों ने पूर्व हटाए गए कुछ धार्मिक स्थलों का मुद्दा भी उठाया है। साथ ही वर्ग विशेष धर्म के लोगों के सार्वजनिक स्थल पर बनाए गए अवैध धार्मिक स्थल को न हटाने पर अपना रोष प्रकट किया है। रेलवे की ओर से कोई कार्रवाई न किए जाने पर भी कई यूजर ने आपत्ति जताई है। जंक्शन पर मजार को लेकर रेलवे का कोई भी अधिकारी कुछ भी कहने को तैयार नहीं है।