बरात में हर्ष फायरिंग की गोली ने दुल्हन के चचेरे भाई की ली जान, प्रतापगढ़ पुलिस खुलेआम फायरिंग रोकने में नाकाम

रानीगंज कोतवाली क्षेत्र के सरायखेर खां गांव में मंगलवार की रात वैवाहिक समारोह में हर्ष फायरिंग की जा रही थी। उसी दौरान 38 साल के प्रेम सिंह को गोली लग गई। वह घायल होकर गिरा तो अफरातफरी मच गई। ज्यादातर लोग शादी समारोह से निकल भागे।

Ankur TripathiTue, 15 Jun 2021 11:53 PM (IST)
बरात पहुंचने के दौरान की गई हर्ष फायरिंग दुल्हन के चचेरे भाई के लिए घातक साबित हो गई

प्रयागराज, जेएनएन। पड़ोसी जनपद प्रतापगढ़ में खुलेआम फायरिंग का सिलसिला थमता नहीं दिख रहा है। एक के बाद एक घटनाएं सामने आने के बाद भी पुलिस इस पर सख्ती से रोक नही लगा सकी है, नतीजतन मंगलवार रात रानीगंज कोतवाली इलाके के सरायखेर खां गांव में शादी समारोह में बरात पहुंचने के दौरान की गई हर्ष फायरिंग दुल्हन के चचेरे भाई के लिए घातक साबित हो गई। गोली लगने से घायल युवक को अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत बताया गया। इसके बाद मची खलबली के बीच पुलिस पहुंची और फायरिंग करने वाले की तलाश शुरू की। एएसपी सुरेंद्र प्रसाद द्विवेदी और सीओ अतुल अंजान त्रिपाठी ने भी वहां आकर जांच की।

गोली लगी तो भागे बराती समेत तमाम लोग

रानीगंज कोतवाली क्षेत्र के सरायखेर खां गांव में रहने वाले 38 साल के प्रेम सिंह के चाचा कोटेदार हैं। मंगलवार की रात उनकी बेटी के वैवाहिक समारोह में प्रेम बरातियों के स्वागत में जुटा था। द्वारचार के दौरान हर्ष फायरिंग की जा रही थी। उसी दौरान प्रेम सिंह के सिर में गोली लग गई। वह घायल होकर गिरा तो अफरातफरी मच गई। ज्यादातर लोग शादी समारोह से निकल भागे। इस बीच घायल प्रेम को उठाकर अस्पताल ले जाया गया लेकिन खुशी जताने के लिए की जा रही फायरिंग उसके लिए मौत का सबब बन गई। प्रेम की मौत की खबर फैली तो रानीगंज थाने की पुलिस के साथ अधिकारी भी अस्पताल और शादी स्थल पर पहुंच गए। जान गंवाने वाले प्रेम के परिवार के लोग भी अस्पताल आकर रोने बिलखने लगे। उधर, शादी समारोह में इस घटना के बाद मची भगदड़ से केवल वर और वधू पक्ष के ही कुछ लोग रह गए थे। पुलिस पता लगा रही है कि फायरिंग किसने की थी। इसके लिए शादी के वीडियो शूट का भी सहारा लिया जा रहा है।

दुल्हन और अपना देल नेता समेत तीन लोगों के वीडियो हुए थे वायरल

पिछले 15 दिन के दौरान प्रतापगढ़ में खुलेआम फायरिंग का यह चौथा मामला है जो जानलेवा भी साबित हुआ। इसके पहले 30 मई की रात जेठवारा इलाके में जयमाल स्टेज पर जाने से पहले दुल्हन रूपा द्वारा चाचा की लाइसेंसी रिवाल्वर से फायरिंग करने का मामाला देश भर में सुर्खियों में रहा। इसका वीडियो भी खूब वायरल हुआ था। इसके बाद अपना दल नेता का एक वीडियो फायरिंग करते वायरल होने पर पुलिस ने गिरफ्तारी की। फिर मीरा भवन के गेस्टहाउस में शादी के दौरान दो युवकों द्वारा धायं-धांय करने का वीडियो फैला लेकिन पुलिस लापरवाही से बाज नहीं आ रही है। इतनी घटनाओं के बाद समारोहों में फायरिंग पर सख्ती नहीं करने का नतीजा है कि एक युवक को जान गंवानी पड़ी है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.