Omicron Corona Variant: कोरोना के नए वैरिएंट की आहट से वैक्सीन लगवा चुके लोग भी असमंजस में

Omicron Corona Variant स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय के वरिष्ठ फिजीशियन डाक्टर मनोज माथुर कहते हैं कि घबराने से कोई फायदा नहीं होने वाला। अच्छा होगा कि लोग समय रहते वैक्सीन की दोनों डोज लगवाकर कम से कम डेल्टा के चक्र से तो सुरक्षित हो जाएं।

Brijesh SrivastavaTue, 30 Nov 2021 03:48 PM (IST)
चिकित्‍सक कहते हैं कि डेल्टा के चक्र से बचने को लगवाएं वैक्सीन, ओमिक्रान की चिंता बाद में करें।

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रान से सतर्कता के बीच उन लोगों में असमंजस है, जो वैक्सीन लगवा चुके हैं। डेल्टा वायरस से सुरक्षा के लिए बनी कोविशील्ड और कोवैक्सीन ओमिक्रान से सुरक्षा दे पाएगी या नहीं, डाक्टरों के मोबाइल फोन पर ऐसे सवाल आ रहे हैं। केंद्र सरकार ने भी देश में अलर्ट जारी किया है। इससे उनके भी चेहरे की हवाइयां उड़ी हुई हैं जो वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके हैं। हालांकि वरिष्ठ डाक्टरों का कहना है कि खतरा उतना नहीं जितना लोग समझ रहे हैं।

मन में उठ रहा प्रश्‍न कि कोरोना की नई लहर आई तो क्‍या होगा

जनपद में अब तक करीब 32 लाख लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है। करीब 12 लाख को दूसरी डोज भी लगाई जा चुकी है। जनपद की आबादी करीब 70 लाख है। वैक्सीन लगाने का लक्ष्य करीब 46 लाख लोगों का है। नवंबर माह पूरा हो गया लेकिन 20 फीसद लोगों को भी वैक्सीन की दोनों डोज नहीं लगाई जा सकी है। स्पष्ट है कि लाखों लोग संक्रमण के असुरक्षित अब भी हैं। यह भी तथ्य लोगों में मन में सवाल पैदा कर रहे हैं कि वैक्सीन का असर डेल्टा वायरस पर कारगर है जबकि विदेश में ओमिक्रान कहर ढाने लगा है, इससे भारत में भी कोरोना की नई लहर आई तो क्या होगा ?

प्रतिरोधक क्षमता मजबूत रही तो कोरोना के वायरस का कम रहेगा खतरा : डाक्‍टर मनोज

स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय के वरिष्ठ फिजीशियन डाक्टर मनोज माथुर कहते हैं कि घबराने से कोई फायदा नहीं होने वाला। अच्छा होगा कि लोग समय रहते वैक्सीन की दोनों डोज लगवाकर कम से कम डेल्टा के चक्र से तो सुरक्षित हो जाएं। कहा कि वैक्सीन से लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ी है, इसमें कोई दो राय नहीं है। रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत रहेगी तो कोरोना के किसी भी वायरस का खतरा कम से कम रहेगा। उन्होंने लोगों से अपील की है कि जिन्होंने वैक्सीन अब तक नहीं लगवाई है वे अपनी और दूसरों की सुरक्षा के लिए इसे जरूर लगवा लें।

वैक्‍सीन लगवाने पर लोग अधिक ध्‍यान दें : जिला प्रतिरक्षण अधिकारी

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. तीरथलाल कहते हैं कि शासन में यह जानने के लिए उच्च स्तर पर अध्ययन चल रहा है कि ओमिक्रान पर वैक्सीन कितनी असरदार होगी। लोगों को फिलहाल ओमिक्रान की चिंता करने के बजाए वैक्सीन लगवाने पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए। सतर्कता सभी लोग बरतें और मुंह व नाक पर मास्क लगाने की आदत फिर से डाल लें।

कोविड जांच केंद्र पर बढ़ी भीड़

स्थाई तौर पर कोविड जांच केंद्र शहर में केवल मेडिकल चौराहा स्थित प्रोफेसर राजेंद्र सिंह रज्जू भैया राज्य विश्वविद्यालय के परिसर में चल रहा है। करीब तीन माह से इसमें कुछ गिने चुने लोग ही कोविड जांच कराने पहुंच रहे थे। वहीं दुनिया भर में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रान की धमक व दहशत के चलते यहां भी अपनी सुरक्षा को लेकर लोग सतर्क हो गए हैं। जांच केंद्र पर सोमवार को लंबी लाइन लगने लगी है। कोविड जांच केंद्र के कर्मचारियों ने भी पूरी सुरक्षा के साथ लोगों के सैंपल लिए और प्रयोगशाला भेजा जा रहा है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.