National Law University: प्रयागराज में EPC मोड पर बनेगा विधि विश्वविद्यालय, 291 करोड़ रुपये आएगी लागत

National Law University लोक निर्माण विभाग के अफसरों ने बताया कि नेशनल ला यूनिवर्सिटी के निर्माण की आगे की प्रक्रिया जल्द ही शुरू हो जाएगी। इसका निर्माण ईपीसी मोड में निर्धारित समय में इसे हर हाल में पूरा करना अनिवार्य होगा। यूनिवर्सिटी को दो साल में बनाना होगा।

Brijesh SrivastavaMon, 13 Sep 2021 08:05 AM (IST)
प्रयागराज के झलवा में अगले दो वर्ष में नेशनल ला यूनिवर्सिटी का निर्माण हो जाएगा।

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। देश की 24वीं नेशलन ला यूनिवर्सिटी का यूपी के प्रयागराज को तोहफा मिला है। इस ला विश्‍वविद्यालय का शिलान्यास शनिवार को राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द ने किया था। अब जल्द ही इसके निर्माण की प्रक्रिया भी शुरू हो जाएगी। आपको बता दें कि इस यूनिवर्सिटी का निर्माण झलवा में ट्रिपलआइटी के निकट 10 हेक्टेयर जमीन पर होगा। उस जमीन को समतल करने का काम चल रहा है। 291 करोड़ रुपये की लागत से इसका निर्माण किया जाएगा। इसे ईपीसी (इंजीनियरिंग प्रिक्योरमेंट कंस्ट्रक्शन) मोड पर बनाया जाएगा।

नेशनल ला यूनिवर्सिटी का शिलान्‍यास राष्‍ट्रपति ने किया था

नेशनल ला यूनिवर्सिटी के शिलान्यास के लिए हाईकोर्ट परिसर में भव्य आयोजन हुआ। इस कार्यक्रम के लिए कई दिन तक तैयारियां चली थी। राष्ट्रपति के आगमन के चलते पूरा प्रशासनिक अमला और हाई कोर्ट की पूरी टीम जुटी रही। राष्ट्रपति के अलावा प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित कई मंत्री भी शामिल हुए थे। आयोजन के समापन के अगले दिन अफसरों ने आराम किया। हाई कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष अमरेंद्र नाथ सिंह ने बताया कि आयोजन सकुशल संपन्न हो गया।

विधि विश्‍वविद्यालय दो वर्षों में बनेगा

लोक निर्माण विभाग के अफसरों ने बताया कि नेशनल ला यूनिवर्सिटी के निर्माण की आगे की प्रक्रिया जल्द ही शुरू हो जाएगी। इसका निर्माण ईपीसी मोड में निर्धारित समय में इसे हर हाल में पूरा करना अनिवार्य होगा। यूनिवर्सिटी को दो साल में बनाना होगा। अभी वहां पर जमीन को समतल किया जा रहा है।

सर्वे को आएगी टीम फिर होगा टेंडर

अगले कुछ दिनों में नेशनल ला यूनिवर्सिटी के निर्माण के संबंध में डिटेल सर्वे करने के लिए एक टीम आएगी। उसके बाद इसका टेंडर होगा और फिर निर्माण प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। इस यूनिवर्सिटी के लिए अध्यादेश 2020 पारित हो चुका है। अगले साल 80 विद्यार्थियों के साथ यूनिवर्सिटी में प्रवेश शुरू हो जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.