दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

जानलेवा महामारी से लाडलों को बचाने के लिए महिलाओं का जतन, संयम और अनुशासन का पाठ पढ़ा रहीं माताएं

बच्चों के लिए गुनगुना पानी, काढ़ा के अलावा प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली चीजों का कर रहीं माताएं इस्तेमाल

Mothers Day 2021 शहर में बढ़ रहे कोविड संक्रमण को देखते हुए महिलाएं सतर्क हैं। अपने और परिवार की सुरक्षा का ख्याल रखते हुए बच्चों को घर से बाहर निकलने पर पूरी तरह रोक लगा दी है। पति के भी घर लौटने पर बिना सैनिटाइजेशन के प्रवेश नहीं है।

Ankur TripathiSat, 08 May 2021 12:54 PM (IST)

प्रयागराज, जेएनएन। अब तो यह सब जान चुके हैं कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर बेहद खतरनाक है। इस पर नियंत्रण के लिए सरकार ने नाइट कर्फ्यू व लाकडाउन लगाया है। जरूरत के अनुसार इसकी अवधि बढ़ाई जा रही है। ऐसे मे संयम और अनुशासन का पाठ पढ़ा रहीं माताओं ने बच्चों के घर से निकलने पर पाबंदी लगा दी है। ताकि कोरोना को हराया जा सके। नौ मई को मनाए जा रहे मदर्स डे पर प्रस्तुत है यह खास खबर।

बच्चे घर में ऊबे न इसलिए इनडोर गेम खेलने की है छूट

शहर में बढ़ रहे कोविड संक्रमण को देखते हुए महिलाएं भी सतर्क हो गई हैं। अपने और परिवार की सुरक्षा का ख्याल रखते हुए बच्चों को घर से बाहर निकलने पर पूरी तरह रोक लगा दी है। पति के भी घर लौटने पर बिना सैनिटाइजेशन के प्रवेश नहीं है। साथ ही बाजार से लाई गई चीजों के इस्तेमाल के पहले एहतियात बरती जा रही है। बच्चे घर पर ऊबे न, इसके लिए इनडोर गेम खेलने की छूट दी गई है। घर के मुख्य द्वार पर सैनिटाइजर व साबुन आदि की व्यवस्था की है। गुनगुना पानी, काढ़ा के अलावा प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली चीजें ही खाई जा रही हैं। सर्दी, खासी व जुकाम होने पर घरेलू उपचार कर नियंत्रण की कोशिश की जा रही है। 

जानिए क्या कहती हैं महिलाएं

कोरोना महामारी ने बेहद मुश्किल दौर ला दिया है। लाखों लोग कोरोना से जूझ रहे हैं। जाने कितने लोग जान गंवा चुके हैं। अपनों को कोरोना से बचाने की जिम्मेदारी हमारी यानी महिलाओं की हैं। इस वजह से अपने बच्चों को घर से बाहर जाने से रोकती हूं। बेटा बाहर जाता है तो लौटने पर कपड़े बदलाकर सैनिटाइज करती हूं ताकि घर में कोरोना न प्रवेश कर सके। खाने-पीने में इम्यूनिटी बढ़ाने वाली चीजों का ज्यादा  इस्तेमाल किया जा रहा है।

-पुष्पा पटेल, न्याय विहार, सुलेम सराय

संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। इसलिए बच्चों के साथ सतर्कता बरतने व उन्हें सुरक्षित रखने पर विशेष ध्यान देना पड़ रहा है।
अर्चना साहू, भुसोली टोला खुल्दाबाद

बच्चों के खानपान का खास ख्याल रख रही हूं। सर्दी, खासी व जुकाम होने पर घरेलू उपचार कर ठीक करने का प्रयास किया जाता है।
- किरन यादव, राजापुर

बच्चों को बाहर जाने व अन्य सदस्यों को लापरवाही बरतने पर टोकती हूं। हाथ सैनिटाइज किए बगैर घर में प्रवेश नहीं दिया जा रहा।
- ममता, हाईकोर्ट कॉलोनी

बच्चों का विशेष ध्यान दिया जा रहा है। काढ़ा व हल्दी युक्त दूध का इस्तेमाल कर रही हूं। संक्रमणमुक्त रहने को एहतियात बरती जा रही है।
- नेहा सिंह, ईडब्लूएस आवास विकास कॉलोनी, झूंसी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.