घाट पर गायब युवक की चेन और खून के छींटे मिले

घाट पर गायब युवक की चेन और खून के छींटे मिले

फाफामऊ/प्रयागराज फाफामऊ कछार से सप्ताह भर पहले अगवा किए गए युवक का अभी तक पता नहीं चल सका।

Publish Date:Tue, 22 Dec 2020 10:41 PM (IST) Author: Jagran

फाफामऊ/प्रयागराज : फाफामऊ कछार से सप्ताह भर पहले अगवा किए गए युवक का अभी तक पता नहीं चला है। मंगलवार शाम उसकी जंजीर फाफामऊ घाट पर मिली। यहां खून के छींटे भी मिले। इसे लेकर युवक के स्वजनों के साथ ही ग्रामीणों ने हो-हल्ला किया। सूचना पाकर सोरांव और नवाबगंज पुलिस मौके पर पहुंची।

फाफामऊ कछार में 16 दिसंबर की रात मिथुन निवासी मेंहदौरी थाना शिवकुटी अपने दोस्त मनीष कुमार निवासी पुराना फाफामऊ के साथ कद्दू की फसल की रखवाली कर रहा था। उसी समय रसूलाबाद बारूदखाना के रहने वाले आशीष, ननके, राजाबाबू सरोज, मंजीत और आकाश वहां तमंचा और धारदार हथियार लेकर पहुंचे। दोनों को पीटा और मिथुन को गोली मार दी थी। गोली उसके गर्दन में लगी थी। उसे एसआरएन अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं मनीष का तब से पता नहीं है। मिथुन की मां गुड्डी देवी पत्नी रामफेर ने उक्त पांचों हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। मनीष की बरामदगी को लेकर पुलिस आश्वासन देती रही, लेकिन वह नहीं मिला। मंगलवार शाम कुछ लोग गंगा घाट की तरफ गए तो वहां सोने की जंजीर पड़ी थी। वहीं चंद कदम पर खून के छींटे भी थे। एक जिदा कारतूस भी पड़ा था। इसकी सूचना ग्रामीणों के बीच फैली तो भीड़ जुट गई। मनीष के घरवाले भी पहुंचे और जंजीर देखकर बताया कि यह मनीष की है। उन्होंने मनीष को मारकर गंगा नदी में फेंके जाने की आशंका जताई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची नवाबगंज और सोरांव पुलिस ने आक्रोशित लोगों को शांत कराते हुए गोताखोरों को नदी में मनीष की तलाश में लगाया, लेकिन सफलता नहीं मिली। पुलिस का कहना है कि बुधवार को फिर गोताखोरों को नदी में उतारा जाएगा। साथ ही आरोपितों की गिरफ्तारी के प्रयास भी किए जा रहे हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.