प्रयागराज में रक्तदान शिविर में जुटे डोनेटर, जरूरतमंद मरीजों को मिलेगा निश्‍शुल्‍क रक्‍त

प्रयागराज में विभिन्‍न संस्‍थाओं की ओर से रक्‍दान शिविर का आयोजन किया गया।

डॉक्‍टर रवि रानी मिश्रा ने बताया कि प्रत्येक सप्ताह थैलेसीमिया के मरीजों को निश्‍शुल्क रक्त दिया जाता है जो कि समाज के द्वारा डोनेट किया जाता है। इसके अलावा जो भी लावारिस मरीज अस्पताल में आते हैं उनको भी रक्त की जरूरत ब्लड बैंक पूरी करती है।

Brijesh SrivastavaMon, 01 Mar 2021 10:56 AM (IST)

प्रयागराज, जेएनएन। प्रयागराज में इनरव्हील क्लब ऑफ ईस्ट, रुद्रा वेलफेयर सोसाइटी और अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के सहयोग से आयोजित रक्तदान शिविर आयोजित किया। इसमें व्यापारियों, महिलाओं और नौजवानों ने बढ़-चढ़कर भागीदारी की। 70 यूनिट खून स्वरूपरानी मेडिकल कॉलेज को डोनेट किया गया।

थैलेसीमिया के मरीजों को निश्‍शुल्क रक्त दिया जाता है 

डॉक्‍टर रवि रानी मिश्रा ने बताया कि प्रत्येक सप्ताह थैलेसीमिया के मरीजों को निश्‍शुल्क रक्त दिया जाता है, जो कि समाज के द्वारा डोनेट किया जाता है। इसके अलावा जो भी लावारिस मरीज अस्पताल में आते हैं उनको भी रक्त की जरूरत ब्लड बैंक पूरी करती है। इस मौके पर डिस्ट्रिक्ट चेयरमैन नुसरत राशिद डिस्ट्रिक सेक्रेट्री सुषमा अग्रवाल, सरिता  खुराना ,रत्ना जयसवाल ,श्वेता मित्तल ज्योति श्रीवास्तव, प्रिय नारायण श्रीवास्तव ,शिवानी साद, विनीत अरोड़ा उपस्थित रहे। प्रदेश मंत्री सुशांत केसरवानी, विशाल वर्मा, नीरज जायसवाल ,अन्नू केसरवानी, बिरड़ी, कमलेश यादव व अनेक व्यापारी उपस्थित रहे। रक्तदान करने वाले सभी रक्त दाताओं को सिद्धेश्वर राय और प्रवीण राय ने धन्यवाद और आभार प्रकट किया गया। मेडिकल कॉलेज की टीम सदस्‍यों ने सहयोग किया।

प्रयागराज में जरूरतमंदों की मदद को बढ़े हाथ

रूरल इंडिया सर्पोटिंग ट्रस्ट व सहयोगी संस्था विज्ञान फाउंडेशन की ओर से जरूरतमंद बहनों को राशन वितरित किया गया। शहर के पत्रिका चौराहे के पास बनाए गए वितरण सेंटर से 89 महिलाओं की मदद की गई। रसूलाबाद, तेलियरगंज, करेली, दरियाबाद आदि इलाकों से आईं जरूरतमंद महिलाओं को मदद की गई। उन्‍हें राशन किट में 10 किलो चावल, 10 किलो आटा, तीन किलो दाल, एक किलो चीनी, एक लीटर तेल, एक पैकेट नमक, एक किलो सोयाबीन, 250 ग्राम चाय, 100 ग्राम मसाला, 500 ग्राम डालडा घी दिया गया। संस्‍था के लोगों ने बताया कि राशन किट देने का उद्देश्य यह है कि जो लोग लाकडाउन के बाद वापस से अपनी आजीविका चलाने में सक्षम नहीं हैं, उनकी सहायता करना है। सहयोगी साथियों में अंशु मालवीय, जफर बख्त, एडवोकेट सुनील कुमार निषाद, जितेंद्र कुमार निषाद, ओसामा हसन, फरीना खानम, अनुराधा आदि मौजूद रहे।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.