corona infection से तबीयत खराब मगर अस्पताल में बेड नहीं, प्रयागराज में मरीजों को भर्ती कराने को यहां करें संपर्क

जिला प्रशासन ने सरकारी अस्पतालों के अलावा आठ निजी अस्पतालों को इसके लिए सुरक्षित किया है।

मरीजों के इलाज के लिए जिला प्रशासन ने सरकारी अस्पतालों के अलावा आठ निजी अस्पतालों को इसके लिए सुरक्षित किया है। इन अस्पतालों में इलाज शुरू हो गया है। लेकिन अस्पताल तक मरीज को पहुंचाने में तीमारदारों को भारी मशक्कत करनी पड़ रही है।

Ankur TripathiTue, 20 Apr 2021 11:50 PM (IST)

प्रयागराज, जेएनएन। कोरोना महामारी का संक्रमण तेजी से फैला है। अब तक हजारों लोग इससे ग्रसित हो चुके हैं। मरीजों के इलाज के लिए जिला प्रशासन ने सरकारी अस्पतालों के अलावा आठ निजी अस्पतालों को इसके लिए सुरक्षित किया है। इन अस्पतालों में इलाज शुरू हो गया है। लेकिन अस्पताल तक मरीज को पहुंचाने में तीमारदारों को भारी मशक्कत करनी पड़ रही है। सही जानकारी न होने के कारण कई तीमारदार अपने मरीजों को लेकर इधर उधर भटक रहे हैं। इसलिए बेहतर हो कि अस्पताल में खाली बेड होने की जानकारी लेने के बाद ही वहां मरीज को लेकर जाय। हालांकि यह भी सच है कि ज्यादातर अस्पतालों में जाने या फोन पर जानकारी लेने पर यही कहा जा रहा है कि बेड खाली नहीं है। ऐसे में लोग मरीज को लेकर भटकते रह जाते हैं।

सरकारी अस्पतालों में कैसे कराए भर्ती

स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल, तेज बहादुर सप्रू (बेली) अस्पताल और रेलवे अस्पताल में भर्ती कराने के लिए हेल्प लाइन नम्बर 07447179060 पर फोन कर सकते है।

निजी अस्पतालों में भर्ती करने के लिए इन नंबरों पर कर सकते हैं संपर्क

- यूनाइटेड मेडिसिटी रावतपुर: 9889031242, 945214 7693, 7355968996

- वात्सल्य हॉस्पिटल सिविल लाइन 9598050251, 8707809472

- नारायण स्वरूप हॉस्पिटल मुंडेरा : 9335626524

- मां शारदा हॉस्पिटल बैरहना : 9451289146

- आशा हॉस्पिटल राजापुर : 9415316017, 9452979134

- यश हॉस्पिटल सिविल लाइन : 7985095647, 8423495932

- विनीता अस्पताल फाफामऊ : 9335078743, 8840563683

- प्राची हॉस्पिटल फाफामऊ : 9918928444

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.