प्रयागराज में पुलिस चौकी के निकट भाजपा नेता के कारखाने से लाखों के उपकरण चोरी, CCTV फुटेज में दिखे अपराधी

बदमाश कंपनी की बाहरी दीवार में सुराख बनाकर दाखिल हुए। ताज्जुब की बात यह कि महज सौ मीटर दूरी पर पुलिस चौकी होने के बावजूद घटना के 48 घंटे बाद भी पुलिसवाले मौके पर पड़ताल करने नहीं पहुंचे। वो भी तब जबकि जबकि कारखाना सत्ताधारी दल के नेता का है।

Ankur TripathiSat, 19 Jun 2021 06:55 PM (IST)
घटना के 48 घंटे बाद भी मौके पर नहीं पहुंची पुलिस घटनास्थल से सौ मीटर दूरी पर है पुलिस चौकी

प्रयागराज, जेएनएन। यमुनापार इलाके में औद्योगिक थाना क्षेत्र के यूपीएसआईडीसी के प्लाट पर बने एक कारखाने में सेंध लगाकर बदमाशों ने लाखों रुपये के उपकरण चुरा लिए। बदमाश कंपनी की बाहरी दीवार में सुराख बनाकर दाखिल हुए थे। ताज्जुब की बात यह है कि महज सौ मीटर दूरी पर पुलिस चौकी होने के बावजूद घटना के 48 घंटे बाद भी पुलिसवाले मौके पर पड़ताल करने नहीं पहुंचे। वो भी तब जबकि जबकि कारखाना सत्ताधारी दल के नेता का है। पुलिस ने बस इतना किया कि तहरीर ली और चोरी का केस लिख लिया। कारखाने में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में चोर नजर आए हैं लेकिन पुलिस ने उनकी गिरफ्तारी और बरामदगी के लिए कोई कोशिश अब तक की नहीं है।

 कैमरों की डीवीआर भी उठा ले गए अपराधी

अलोपीबाग निवासी राजेश पांडेय हाईकोर्ट में एडवोकेट है। साथ ही भाजपा में काशी क्षेत्र के मंडल प्रभारी है। उनका ज्योति ट्रेडर्स के नाम से यूपीएसआईडीसी के प्लाट संख्या सी-वन पर हैंड पंप प्रीकास्ट प्लेटफार्म बनाने का कारखाना है। साथ ही प्रधानमंत्री पेयजल योजना के तहत बोरिंग नलकूप आदि स्थापित करने के उपकरणों का गोदाम है। गुरुवार की रात मुख्य द्वार पर स्थित दीवार में सेंध लगाकर 10 से अधिक संख्या में बदमाश कारखाने में घुस गए थे। कारखाने में रखा सब मर्सिबल पंप, वेल्डिंग मशीन, जनरेटर, मोटर पंप, सीसीटीवी कैमरे का डीवीआर, केबल समेत करीब पांच लाख रुपये कीमत के सामान उठा ले गए। शुक्रवार की सुबह घटना की जानकारी होने पर राजेश पांडेय ने इंस्पेक्टर जितेंद्र कुमार सिंह से मिलकर उन्हें तहरीर सौंपी थी। उन्होंने स्थानीय चौकी प्रभारी मनोज कुमार को मामले को देखने के लिए कहा था, लेकिन घटना के 48 घंटे बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंच सकी। इस घटना से क्षेत्र के उद्योगपतियों में नाराजगी है। इंस्पेक्टर जितेंद्र कुमार सिंह का कहना है कि चोरी का मुकदमा दर्ज कर विवेचना की जा रही है।

10 से अधिक बदमाश दिखे फुटेज में

कारखाना मालिक राजेश पांडेय ने बताया कि उन्होंने सुरक्षा की दृष्टि से कारखाने के अंदर और बाहर सीसीटीवी कैमरा लगवा रखा है। घटना के बाद शुक्रवार को जब उन्होंने कंपनी जाकर सीसीटीवी फुटेज देखा तो उसमें 10 से अधिक संख्या में बदमाश कंपनी में दाखिल नजर आए। आधी रात से भोर 4:00 बजे तक उन्होंने कंपनी में अपनी मनमानी की। लाखों रुपए का सामान पार कर दिया। पुलिस को जानकारी देने के बावजूद भी वह सीसीटीवी फुटेज देखने के लिए कंपनी तक नहीं पहुंची। आठ नवंबर 2020 को भी इसी प्रकार की घटना हुई थी, जिसमें पुलिस ने चोरी का मुकदमा दर्ज कर आगे कोई कार्रवाई नहीं की थी। पुलिस की लापरवाही से बदमाश मनबढ़ हो गए हैं । वह अपने साथियों के साथ एसएसपी से मिलकर इसकी शिकायत करेंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.