Good News: प्रतापगढ़ में बाई पास के निर्माण की जगी उम्मीद, शुरू हो गया है सर्वे कार्य

Good News प्रयागराज-सुल्तानपुर हाईवे के किनारे स्थित गोड़े गांव से यह बाईपास बनाया जाएगा। यह बाईपास मेडिकल कालेज के बगल से होते हुए महकनी और भुवालपुर किला गांव के बीच में जौनपुर-रायबरेली हाईवे पर निकलेगा। इसकी कुल करीब 14 किमी है।

Brijesh SrivastavaWed, 01 Dec 2021 04:26 PM (IST)
प्रतापगढ़ में बाई पास बन जाने से शहर में जाम की समस्या से लोगों को राहत मिलेगी।

प्रयागराज, जेएनएन। प्रतापगढ़ में बहु प्रतीक्षित बाई पास के निर्माण की उम्मीद जग गई है। टेंडर मंजूर होने के बाद कार्यदायी संस्था की टीम ने यहां डेरा डाल दिया है और जमीन का सर्वे शुरू कर दिया है। जनवरी महीने से निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। जिले का प्रमुख हाईवे प्रयागराज-अयोध्या बीच शहर से होकर गुजरा है।

इस हाईवे पर वाहनों का दबाव अधिक रहता है, इसकी वजह यह है कि यह दो धार्मिक स्थलों संगमनगरी व अयोध्या को जोड़ता ही है, साथ ही इसी हाईवे से प्रयागराज के अलावा प्रतापगढ़, सुल्तानपुर, अमेठी, आंबेडकरनगर, अयोध्या, गोंडा, बस्ती, बहराइच सहित दर्जन भर जिलों के लोग गुजरते हैं, इस वजह से दिन भर जाम लगता है। यही नहीं, नो इंट्री के बाद ट्रकों के आवागमन के दौरान कई बार हादसे में ब्लाक कर्मी सहित कई लोग जान गवां चुके हैं।

जाम सहित होने वाले हादसे से निजात दिलाने के लिए जिले के लोग जन प्रतिनिधियों से अरसे से बाई पास का निर्माण कराने की मांग करते आ रहे हैं। इसके लिए वर्ष 2013 से प्रयास शुरू किया गया, लेकिन जमीन अधिग्रहण के साथ प्रोजेक्ट मार्च 2021 में सड़क एवं परिवहन राजमार्ग मंत्रालय को एनएच सुल्तानपुर से भेजा गया। करीब तीन पहले बाई पास के निर्माण के लिए 245 करोड़ रुपये बजट केंद्र सरकार ने मंजूर कर दिया। टेंडर होने के बाद अक्टूबर में इसका ठेका अहमदाबाद (गुजरात) की कंपनी मारूती इंफ्राक्रिएशन प्राइवेट लिमिटेड को मिल गया। सारी औपचारिकताएं पूरी होने के बाद इस कंपनी का अनुबंध भी बनकर तैयार हो गया।

कंपनी के कर्मचारी यहां पहुंचे। इन कर्मचारियों ने मेडिकल कालेज के पास अपना ठिकाना बनाया है। मंगलवार को कंपनी के कर्मचारियों ने ङ्क्षचन्हित जमीन का सर्वे शुरू कर दिया। अब राजस्व विभाग कार्यदायी संस्था को अधिग्रहीत जमीन का सीमांकन कराएगा, ऐसे में यह उम्मीद है कि बाई पास के निर्माण का कार्य जनवरी महीने में शुरू हो जाएगा।

प्रयागराज-सुल्तानपुर हाईवे के किनारे स्थित गोड़े गांव से यह बाई पास बनेगा, जो मेडिकल कालेज के बगल से होते हुए महकनी-भुवालपुर किला गांव के बीच में जौनपुर-रायबरेली हाईवे पर निकलेगा। इसकी कुल करीब 14 किमी है।

एनएच सुल्‍तानपुर के एई एके मिश्र ने कहा कि बाई पास के लिए बजट 245 करोड़़ रुपये मंजूर हुआ था, लेकिन कार्यदायी संस्था ने 166 करोड़ रुपये का ही टेंडर डाला था। कार्यदायी संस्था ने जमीन का सर्वे शुरू कर दिया है-

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.