Fraud in Gold Loan: नकली सोना गिरवी रख HDFC Bank से लाखों का लोन लेने वाले फरार, पुलिस को तलाश

Fraud in Gold Loan दअरसल एचडीएफसी बैंक की ओर से कुछ साल पहले गोल्ड लोन स्कीम लागू की गई थी। वर्ष 2017 से 20 के बीच अलग-अलग मोहल्ले में रहने 14 लोगों ने बैंक में सोना गिरवी रखकर ऋण लिया। बैंक की ओर से सोने का सत्यापन भी हुआ था।

Brijesh SrivastavaWed, 28 Jul 2021 08:01 AM (IST)
नकली सोना गिरवी रख लोन लेने वाले 14 आरोपित फरार हैं। उनकी पुलिस तलाश कर रही है।

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। यूं तो लोगों को साइबर शातिर धोखाधड़ी करके ठगते हैं। अपराधी झांसा देकर लूट लेते हैं, मगर शहर में एक अलग तरह की मामला सामने आया है। यहां लोगों ने बैंक से लोन असली लिया, लेकिन नकली गोल्ड देकर। ग्राहकों की इस कारस्तानी से एचडीएफसी बैंक को लाखों रुपये का नुकसान हुआ। ब्याज नहीं मिला सो अलग। अब बैंक अधिकारियों ने मुकदमा दर्ज जरूर करवा दिया है, लेकिन नकली सोना असली में तब्दील तो शायद नहीं होगा। अभियुक्तों को कर्ज के रूप में दिया गया पैसा कब तक वापस होगा, यह भी भविष्य के गर्भ में है। हालांकि जिस तरह से लोगों ने वैलुवर के मार्फत बैंक से धोखाधड़ी की, उससे दूसरे लोग अचंभित हैं। पुलिस भी उन्‍हें खोज रही है। 

14 लोगों ने बैंक में सोना गिरवी रख लिया था कर्ज

दअरसल, एचडीएफसी बैंक की ओर से कुछ साल पहले गोल्ड लोन स्कीम लागू की गई थी। वर्ष 2017 से 20 के बीच अलग-अलग मोहल्ले में रहने 14 लोगों ने बैंक में सोना गिरवी रखकर ऋण लिया। बैंक की ओर से सोने का सत्यापन वैलुवर चंद्र कुमार सोनी ने किया था। एफआइआर के मुताबिक, स्कीम के तहत ग्राहकों को योजना व शर्तों के अनुसार किश्त जमा करना था मगर किसी ने नहीं किया। इतना ही नहीं, लोन चुकता कर किसी ने बंधक रखे गए सोने को मुक्त भी नहीं कराया।

नीलामी की प्रक्रिया व सूचना के बाद भी नहीं पहुंचे कर्जदार

बैंक अधिकारियों ने सोने को नीलाम करने की प्रक्रिया शुरू की और सभी को सूचना दी गई, लेकिन कोई भी कर्जदार बैंक नहीं पहुंचा। इस पर अधिकारियों को संदेह हुआ। सोने की जांच हुई तो पता चला कि नकली है। वैलुवर के बारे में जानकारी जुटाई गई तो मालूम हुआ कि वह घर छोड़कर फरार है।

इनके खिलाफ दर्ज है केस, फरार

खुल्दाबाद निवासी वैलुवर चंद्र कुमार सोनी, खाताधारक मीरापुर के पप्पू कुमार, कैशांबी के सैयद सादाब आलम, महाजनी टोला के राजकुमार सोनी, कटघर के चंद्रकांत श्रीवास्तव, अहियापुर के संजय रावत व मनीष कुमार रावत, मीरापुर के देव हीरा, मुकेश पाल, सुधा सिंह व अंकिता गुप्ता, कीडगंज के मनीष धुरिया, चकिया के प्रदीप कुमार धुरिया, मालवीय नगर के अंकिता मेहता, अतरसुइया के कल्पना गुप्ता के खिलाफ कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.