प्रयागराज में चार लोगों की हत्‍या मामला, मृतकों के घरवालों ने पुलिस के राजफाश पर उठाए सवाल

प्रयागराज के फाफामऊ में एक ही परिवार के चार लाेगों की हत्‍या मामले का पुलिस द्वरा राजफाश किए जाने पर राजनीतिक दलों ने भी अंगुली उठाई। समाजवादी पार्टी आम आदमी पार्टी ने इसे फर्जी राजफाश बताया था। अब मृतकों के स्वजन भी इस पर्दाफाश पर अंगुली उठाने लगे हैं।

Brijesh SrivastavaWed, 01 Dec 2021 09:12 AM (IST)
सामूहिक हत्‍याकांड का राजफाश करने पर राजनीतिक दलों के बाद अब परिवार के सदस्‍य भी सवाल खड़े कर रहे हैं।

प्रयागराज, जागरण संवाददाता। प्रयागराज के फाफामऊ में नाबालिग दलित से दुष्कर्म कर पूरे परिवार को मार डालने के मामले का पिछले दिनों पुलिस ने राजफाश किया था। हालांकि, पुलिस के इस पर्दाफाश पर अब मृतकों के घरवालों ने ही सवाल खड़े कर दिए हैं। मृतक अधेड़ के सबसे छोटे भाई का कहना है कि गिरफ्तार किया गया आरोपित कैसे इतनी बड़ी वारदात कर सकता है, यह समझ से परे है। पुलिस को सही आरोपितों को गिरफ्तार कर सामने लाना चाहिए।

पुलिस की थ्‍योरी कि एकतरफा प्‍यार में वारदात

फाफामऊ थाना क्षेत्र के एक गांव में हुई घटना का रविवार को पुलिस ने राजफाश किया था। थरवई के कोरसंड निवासी पवन कुमार सरोज को गिरफ्तार कर कहा गया था कि उसने अपने दो साथियों के साथ मिलकर इस पूरी वारदात को अंजाम दिया है। वह मृतक अधेड़ की पुत्री से एकतरफा प्रेम करता था। वह मोबाइल पर मैसेज कर उसे परेशान करता था। 21 नवंबर को लड़की ने उसके मैसेज का जवाब आइ हेट यू लिखकर दिया तो वह बौखला गया और फिर वारदात कर डाली थी।

राजनीतिक दलों ने भी राजफाश पर उठाई थी अंगुली

पुलिस के इस राजफाश पर राजनीतिक दलों ने भी अंगुली उठाई। समाजवादी पार्टी, आम आदमी पार्टी ने इसे फर्जी राजफाश बताया था। अब मृतकों के स्वजन भी इस पर्दाफाश पर अंगुली उठाने लगे हैं। मृतक अधेड़ के सबसे छोटे भाई का कहना है कि जिस प्रकार से चार कत्ल हुए, उससे साफ है कि इसमें कई लोग शामिल थे। पुलिस ने जिसे गिरफ्तार किया है, वह इतनी बड़ी वारदात कैसे कर सकता है। गिरफ्तार आरोपित को कभी परिवार के लोगों और ग्रामीणों ने भी नहीं देखा था। ऐसे में पुलिस को सही आरोपितों को सामने लाना चाहिए। फिलहाल चाहे जो हो, लेकिन पुलिस ने तो पवन को गिरफ्तार कर मामले का राजफाश करने का दावा तो कर ही दिया है।

सपा के राष्‍ट्रीय महासचिव इंद्रजीत सरोज ने स्‍वजनों को दिलासा दिया

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव इंद्रजीत सरोज मृतकों के घर पहुंचे। स्वजनों को सांत्वना देते हुए कहा कि पार्टी उनके साथ खड़ी है। उन्हें न्याय दिलाने के लिए हर लड़ाई लड़ी जाएगी। घरवालों ने उनसे कहा कि वर्ष 2019 से वे पुलिस से मदद की गुहार लगा रहे थे, लेकिन दबंगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो रही थी। पुलिसकर्मी उल्टा दबंगों की खातिरदारी करते थे। नतीजा यह हुआ कि परिवार के चार लोगों की नृशंस हत्या कर दी गई।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.