Double Murder Mystery: प्रयागराज में दुष्‍कर्म के बाद मां-बेटी की हत्‍या, शरीर पर खरोंच तो यही कर रहे बयां

Double Murder Mystery मृतका की पुत्री के शरीर पर खरोंच मिली। इससे साफ हो गया कि उसके साथ जोर जबरदस्ती की गई थी जबकि महिला के शरीर पर कोई खरोंच नहीं थी। महिला को जानने वाला कोई व्यक्ति अपने साथी के साथ वहां आया था।

Brijesh SrivastavaSat, 25 Sep 2021 09:34 AM (IST)
मां-बेटी की हतया मामले में पुलिस से मृतका के सास-ससुर ने किसी से रंजिश से इन्कार किया।

प्रयागराज, जेएनएन। प्रायगराज जिले में नवाबगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में गुरुवार देर रात मां-बेटी की निर्मम हत्या के मामले में पुलिस और फोरेंसिक टीम ने जांच पड़ताल की। इसमें मृतका की बेटी के शरीर पर खरोंच के निशान मिले हैं। इससे अनुमान लगाया जा रहा है कि पहले उसकी मां को दुष्कर्म कर मारा गया और फिर उसके साथ जोर जबरदस्ती कर उसे भी मौत के घाट उतार दिया गया। जिस प्रकार से पूरी घटना को अंजाम दिया गया है, उससे यह भी लगभग साफ है कि इसमें किसी करीबी का हाथ है।

किसी जाननेवाले ने ही वारदात को दिया है अंजाम

महिला और उसकी बेटी की हत्या के बाद पुलिस ने फोरेंसिक टीम को बुलाया तो घर के भीतर किसी प्रकार के निशान नहीं मिले। लूटपाट जैसी कोई बात भी सामने नहीं आई। दोनों के शव को देखा गया तो मृतका की पुत्री के शरीर पर खरोंच मिली। इससे साफ हो गया कि उसके साथ जोर जबरदस्ती की गई थी, जबकि महिला के शरीर पर कोई खरोंच नहीं थी। इससे यह आशंका है कि महिला को जानने वाला कोई व्यक्ति अपने साथी के साथ वहां आया था। महिला के साथ दुष्कर्म करने के बाद जब उसकी हत्या कर दी गई। उसी समय उसकी पुत्री जाग गई, जिस पर उसके साथ भी जोर जबरदस्ती कर उसे मार डाला गया।

महिला के घर में आने वालों का पुलिस पता लगा रही

पुलिस ने मृतका के सास-ससुर से बातचीत की तो उन्होंने किसी से रंजिश से इन्कार किया। बताया कि वे दूसरे घर में रहते हैं, जिसकी दूरी करीब 25 मीटर है। उन्होंने कोई आवाज नहीं सुनी। पुलिस ने ग्रामीणों से बातचीत की तो कुछ ने बताया कि एक-दो लोग अक्सर आते-जाते थे। ये लोग कौन हैं, इस बारे में भी पुलिस को जानकारी दी गई। इसके अलावा और कौन-कौन मृतका के घर आता था, इसे भी पता लगाया जा रहा है।

ताकिए के नीचे मिला मोबाइल

मृतका का मोबाइल पुलिस को ताकिए के नीचे मिला। उसे कब्जे में ले लिया गया है। बाद में उसे खंगाला गया तो कुछ मोबाइल नंबर मिले। इसमें उसके पति, मायके, रिश्तेदारों के अलावा कुछ और नंबर हैं, जिसके बारे में पता लगाया जा रहा है।

अलग-अलग बिस्तर पर सोई थी मां-बेटी, एक चारपाई पर मिली लाश

मां-बेटी की खून से लथपथ लाश एक ही बिस्तर पर मिली थी। जबकि दोनों अलग-अलग चारपाई पर सो रही थीं। डेढ़ वर्ष का बालक बहन के साथ था। दोनों चारपाई पर खून लगा था। इससे साफ था कि हत्यारे में मृतका की बेटी के साथ दुष्कर्म कर उसी चारपाई पर उसे मार डाला और फिर उसका शव उठाकर जिस चारपाई पर उसकी मां थी, वहां रख दिया।

दो थाने की सीमा पर है मकानमहिला का घर गांव के बीचों-बीच सड़क है। इसके उत्तर में होलागढ़ और दक्षिण में नवाबगंज थाना क्षेत्र पड़ता है। मुख्य सड़क से उसका घर बिल्कुल सटा हुआ है और घर के अगले ही हिस्से में बरामदा बना हुआ है। बरामदे में कोई गेट, चौनल नहीं लगा है। पन्नी, साड़ी से बरामदे को ढका गया है। मुख्य सड़क पर घर होने के कारण हत्यारे बड़े आराम से वारदात को अंजाम देकर निकल गए।

सोता रहा पुत्र

मां-बेटी कातिल के बारे में जानती थीं। जिस प्रकार वारदात हुई है, उससे यह भी साफ है कि पहले महिला और फिर उसकी बेटी को मौत के घाट उतारा गया है, जबकि मृतका का डेढ़ वर्ष के बालक पर कोई वार नहीं किया गया। वह उस समय भी सो ही रहा था। शुक्रवार सुबह मृतका की सास जब घटनास्थल पर पहुंची तब भी बालक चारपाई पर सो रहा था।

मां-बेटी की हत्या से दहशत, मातम और आक्रोश

मां-बेटी की हतया के बाद पूरे इलाके में दहशत का माहौल है। लोगों में गम और आक्रोश साफ नजर आ रहा था। वारदात के बाद आसपास के गांवों से भी भारी भीड़ जुट गई थी। घटना की सूचना पाकर जनप्रतिनिधियों का भी जमावड़ा लग गया। जनप्रतिनिधियों ने मृतकों के स्वजनों को शस्त्र लाइसेंस, पट्टे की जमीन, 50 लाख का आर्थिक मुआवजा, सुरक्षा आदि की मांग की है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.